अभी तय नहीं हुआ किसके हैं 1.40 करोड़ रुपये, जीआरपी और आरपीएफ ने आयकर के पाले में डाली गेंद

कानपुर,जेएनएन।छोटीसेछोटीघटनाकोगंभीरतासेलेनेवालेरेलवेअधिकारी1.40करोड़रुपयेमिलनेकीघटनाकोलेकरगंभीरनहींहै।जांचटीमकागठनतोदूरकीबातआयकरअधिकारियोंकीसिपुर्दगीमेंधनदेनेकेबादजीआरपीशांतबैठगईहै।आरपीएफसेभीकोईरिपोर्टनहींमांगीगईहै,जबकिट्रेनमेंपिछलेदिनोंहुईतीनलाखरुपयेकीचोरीकेमामलेकीकमानखुदएसपीरेलवेनेसंभालीथी।जीआरपीऔरआरपीएफकीसंयुक्तटीमकाभीगठनकियागयाथा।दसदिनमेंटीमनेमामलेकापर्दाफाशभीकरदियाथा।

मुजफ्फरपुरकेसांसदअजयनिषादकीपत्नीरमानिषादकेबैगसेपटनाराजधानीमेंतीनलाखरुपयेचोरीहोगएथे।इसमामलेकापर्दाफाशमहज10दिनमेंकरदियागयाथा,लेकिनदिल्लीसेजयनगरजारहीस्वतंत्रतासंग्रामसेनानीएक्सप्रेसकेपेंट्रीकारमेंमिले1.40करोड़रुपयेकेमामलेमेंअबतकनतोकोईटीमबनाईगईऔरनहीआरपीएफसेकोईरिपोर्टतलबकीगई,जबकिछोटीसेछोटीघटनाहोनेपरभीआरपीएफकोमेमोजारीकरसवालपूछेजातेहैं।ऐसेमेंइसमामलेमेंलापरवाहीकोलेकररेलवेमेंचर्चाओंकाबाजारगर्महै।

बोलेविधिविशेषज्ञ