Amethi Election Result: क्या 2017 में ही लिख दी गई थी राहुल गांधी के हार की पटकथा?

नईदिल्ली,जेएनएन।लोकसभाचुनावकेनतीजेजारीहोगएहैंऔरभारतीयजनतापार्टीनेएकबारफिरऐतिहासिकजनादेशहासिलकरलियाहै।देशकीजनतानेएकबारफिरकांग्रेसकोनकारदियाहैऔरपार्टीअध्यक्षराहुलगांधीकेनेतृत्वपरभरोसानहींकियाहै।वैसेआपकोबतादेंकिजनतानेएनडीएके352उम्मीदवारऔरकांग्रेस(+)के86उम्मीदवारऔरअन्यपार्टियोंके103उम्मीदवारोंपरभरोसाजतायाहै।

कांग्रेसकीबातकरेंतोइतनाहीनहींराहुलगांधीखुदअपनीपरंपरागतसीटपरभीहारगएहैं।भाजपाउम्मीदवारस्मृतिईरानीसेउन्हेंहारमिलीहै।कांग्रेसकागढ़मानेजानेवालीअमेठीसीटमेंराहुलगांधीकोमिलायेजनादेशकांग्रेसऔरगांधीपरिवारकेलिएकाफीचिंताकाविषयहै।

अमेठीएकऐसीसीटहै,जहांकेलिएकहाजाताथाकियहगांधीपरिवारकेलिएपैटेंटसीटहैऔरयहांगांधीपरिवारकेसदस्यकोहरानामुश्किलहै।हालांकि,अबयहतिलिस्मटूटचुकाहै।जानकारोंकामाननाहैकिअमेठीमेंकिसीबाहरीउम्मीदवारसेराहुलगांधीकाहारजानाकांग्रेसकेभविष्यपरकाफीसवालखड़ेकरताहै।साथहीयहगांधीपरिवारकेलिएएकशर्मनाकहारहै।बतादेंकिकांग्रेसनेयहांअपनेबुरेसेबुरेदौरमेंभीजीतहासिलकीहै।

गांधीपरिवारकारहाहैदबदबासाल1980केबादसेसिर्फएकबारऐसाहुआहैजबयहांकिसीगैरकांग्रेसीनेजीतदर्जकीहै।यहसालथा1998,जबएकसालकेलिएभारतीयजनतापार्टीकेसंजयसिंहनेजीतहासिलकीथी.उसकेबादसेकभीभीभीगांधीपरिवारकेअलावाकोईभीउम्मीदवारयहांजीतनहींदर्जकरपाया।साल1980मेंयहांकांग्रेसकीओरसेसंजयगांधीनेचुनावलड़ाथाऔरजीतदर्जकीथी।उसकेबादयहांसेचारबारराजीवगांधीसांसदबनेऔर1991से1998तककांग्रेसकेहीसतीशशर्मानेयहांअपनासिक्काजमाएरखा।

उसकेबादसिर्फ1998मेंभारतीयजनतापार्टीकेसंजयसिंहयहांसेजीते।फिरएकसालबाद1999मेंहुएचुनावमेंराहुलगांधीनेपरपंरागतसीटपरदावेदारीकीऔरलगातारजीतहासिलकी।राहुलगांधीयहांसेचारबारसांसदरहचुकेहैं।पिछलेबार2014मेंभीराहुलगांधीकेसामनेभाजपानेस्मृतिईरानीऔरAAPनेकुमारविश्वासकोमैदानमेंउताराथा,लेकिनकांग्रेसकोमातनहींदेसके।यहांगांधीपरिवारकीजड़ेंकाफीमजबूतहैं,तभीतो2014केलोकसभाचुनावमेंमोदीलहरपरसवारभाजपाकमलखिलानेसेमहरूमरहगई।

2017मेंलिखगईथीराहकीपटकथा?अमेठीलोकसभासीटकेतहतपांचविधानसभासीटेंआतीहैं,इनमेंतिलोई,जगदीशपुर,अमेठीऔरगौरीगंज,सलोनसीटेंशामिलहैं।साल2017केविधानसभाचुनावमें5सीटोंमेंसे4सीटोंपरभाजपाऔरमहजएकसीटपरएसपीकोजीतमिलीथी।हालांकि,सपा-कांग्रेसगठबंधनकरकेचुनावमैदानमेंउतरीथी,फिरभीजीतनहींसकीथी।सपानेतोगौरीगंजसीटजीतली,लेकिनकांग्रेसकोएकभीसीटनहींमिली।क्याइससेपताचलताहैकिअमेठीकीजनतानेकांग्रेसकोनकारदियाथा।

2014मेंक्यारहाथारिजल्ट2014में,अमेठीलोकसभाक्षेत्रसेराहुलगांधीकानिर्वाचनहुआऔरउन्हें408651वोटमिले।उन्होंनेस्मृतिईरानीको107903वोटोंसेहरायाथा।2014मेंकुल52.39प्रतिशतवोटपड़े।कांग्रेसअध्यक्षराहुलगांधीचौथीबारतोकेंद्रीयमंत्रीस्मृतिईरानी2014मेंशिकस्तकेबाददूसरीबारआमने-सामनेहैं।संसदीयक्षेत्रमेंवैसेतोकुलमतदाताओंकीसंख्या17,41,034है,लेकिनमताधिकारकाप्रयोग9,40,947लोगोंनेकियाहै।

अमेठी,उत्तरप्रदेशकाप्रमुखशहरऔरराजनीतिकदृष्टिकोणसेमहत्वपूर्णलोकसभाक्षेत्रहै।इसेबसपासरकारद्वाराआधिकारिकतौरपर1जुलाई2010कोअस्तित्वमेंलायागयाथा।गौरीगंजशहरअमेठीजिलेकामुख्यालयहै।शुरुआतमेंइसकानामछत्रपतिसाहूजीमहाराजनगरथाबादमेंबदलकरइसकानामअमेठीकरदियागयाहै।यहभारतकेगांधीपरिवारकीकर्मभूमिहै।

पूर्वप्रधानमंत्रीजवाहरलालनेहरुउनकेपोतेसंजयगांधी,राजीवगांधीऔरउनकीपत्नीसोनियागांधीनेइसजिलेकाप्रतिनिधित्वकियाहै।देवीपाटनधाम,हिन्दूधार्मिकमंदिर,उल्टागढ़ा(हनुमानमंदिर),हनुमानगढ़ीमंदिर,सतीमहरानीमंदिरऔरमालिकमोहम्मदजायसीकीमस्जिदयहांकेप्रमुखधार्मिकस्थलहैं।दिल्लीसेअमेठीकीदूरीकरीब681किलोमीटरहै।

लोकसभाचुनावऔरक्रिकेटसेसंबंधितअपडेटपानेकेलिएडाउनलोडकरेंजागरणएप