बैंक घोटाले मामले पर बोले शरद पवार, 'मुझे जेल जाने में कोई समस्या नहीं, पहले कभी नहीं रहा अनुभव'

नईदिल्ली:महाराष्ट्रसहकारीबैंकमें25हजारकरोड़केघोटालामामलेमेंप्रवर्तननिदेशालयनेमंगलवारकोराष्ट्रवादीकांग्रेसपार्टीप्रमुखशरदपवार,उनकेभतीजेऔरपूर्वउपमुख्यमंत्रीअजीतपवारवअन्यकेखिलाफमनीलॉन्ड्रिंगकामामलादर्जकियाहै.इसपरएनसीपीचीफपवारनेकहा,‘मुझेकोईसमस्यानहींहै,अगरमुझेजेलजानापड़ताहै.इससेमुझेखुशीहोगी,क्योंकिमेरापहलेकभीजेलजानेकाअनुभवनहींरहाहै.अगरकोईमुझेजेलभिजवानेकीतैयारीकररहाहैतोमैंइसकास्वागतकरताहूं.’यहमामलाऐसासमयदर्जकियागयाहैजबमहाराष्ट्रमें21अक्टूबरकोविधानसभाचुनावहोनेहैं.

हालांकि,एनसीपीप्रमुखशरदपवारनेमंगलवारकोकहाकिउन्हेंप्रवर्तननिदेशालयकेकदमसेकोई“हैरानी”नहींहुई.पवारनेतंजभरेलहजेमेंकेंद्रीयएजेंसीकोउसबैंकसेसंबंधितमामलेमेंनामघसीटनेकेलिये“धन्यवाद”दिया,जिसकेवह“नातोसदस्यहैंऔरनहीकिसीभीतरहसेइसकेनिर्णयलेनेकीप्रक्रियामेंशामिलहैं.”सत्तारूढ़भाजपाकीमहाराष्ट्रइकाईनेहालांकिप्रवर्तननिदेशालय(ईडी)कीकार्रवाईकोसहीठहरातेहुएकहाकिउसनेनियमोंऔरप्रक्रियाकेअनुसारकदमउठाएहैं.

पवारनेपत्रकारोंसेकहा,“अगरउन्होंनेमेरेखिलाफभीमामलादर्जकियाहै,तोमैंइसकास्वागतकरताहूं.मुझेतबआश्चर्यहोताजबराज्यकेविभिन्नजिलोंमेंअपनीयात्राओंकेदौरानमुझेमिलीप्रतिक्रियाकेबादभीमेरेखिलाफऐसीकार्रवाईनकीजाती.”इसबीचआमआदमीपार्टीकीपूर्वनेताऔरसामाजिककार्यकर्ताअंजलिदमानियानेमंगलवारकोइसमामलेमेंएनसीपीनेताअजितपवारकेखिलाफप्राथमिकीदर्जकिए जानेपरसंतुष्टिव्यक्तकरतेहुएदावाकियाकियह“किसानोंकेचीनीसहकारीआंदोलनकाव्यापकविनाश”था.

मामलेकाजिक्रकरतेहुएएनसीपीचीफपवारनेकहा,‘मुझेकोईसमस्यानहींहोगीअगरमुझेजेलजानापड़ताहै.इससेमुझेखुशीहोगीक्योंकिमेरापहलेकभीजेलजानेकाअनुभवनहींरहाहै.अगरकोईमुझेजेलभिजवानेकीतैयारीकररहाहैतोमैंइसकास्वागतकरताहूं.’

इससेपहलेअधिकारियोंनेकहाकिकेंद्रीयएजेंसीद्वाराधनशोधननिरोधकअधिनियम(पीएमएलए)केतहतपुलिसद्वारादर्जएफआईआरकेतुल्यमानीजानेवालीप्रवर्तनमामलासूचनारिपोर्ट(ईसीआईआर)दर्जकीगईहै.यहमामलामुंबईपुलिसकीएफआईआरकेआधारपरदर्जकियाहै,जिसमेंबैंककेपूर्वअध्यक्ष,महाराष्ट्रकेपूर्वउपमुख्यमंत्रीअजीतपवारऔरसहकारीबैंकके70पूर्वपदाधिकारियोंकेनामहैं. पुलिसद्वारादर्जप्राथमिकीकेआधारपरईडीकीएफआईआरमेंशरदपवारकानामदर्जकियागयाहै.यहमामलाऐसासमयदर्जकियागयाहैजबमहाराष्ट्रमें21अक्टूबरकोविधानसभाचुनावहोनेहैं.

पीएममोदीनेसाधानिशाना,कहा-‘शरदपवारकोपाकिस्तानअच्छालगताहै,वहांकाज्यादासमर्थनकरतेहैं’

मानाजारहाहैकिआरोपियोंकोएजेंसीद्वाराजल्दहीउनकेबयानदर्जकरनेकेलिएसमनकियाजाएगा.ईडीमामलेमेंआरोपियोंमेंदिलीपरावदेशमुख,इशरलालजैन,जयंतपाटिल,शिवाजीराव,आनंदरावअदसुल,राजेंद्रशिंगानेऔरमदनपाटिलशामिलहैं.राज्यकीआर्थिकअपराधशाखा(ईओडब्ल्यू)द्वारादर्जशिकायतकेआधारपरइससालअगस्तमेंमुंबईपुलिसनेएकप्राथमिकीदर्जकीथी.मुंबईपुलिसद्वारादर्जप्राथमिकीकेआधारपरईडीनेधनशोधनकेआरोपमेंआपराधिकआरोपलगाएहैं.

ईओडब्ल्यूसेबंबईउच्चन्यायालयनेमामलादर्जकरनेकोकहाथा.इससेपहलेन्यायमूर्तिएससीधर्माधिकारीऔरन्यायमूर्तिएसकेशिंदेनेकहाथाकिइसमामलेमेंआरोपियोंकेखिलाफ“विश्वसनीयसाक्ष्य”हैं.पुलिसद्वारादर्जएफआईआरकेमुताबिक,एकजनवरी2007से31मार्च2017केबीचहुएमहाराष्ट्रराज्यसहकारीबैंकघोटालेकेकारणसरकारीखजानेकोकथिततौरपर25हजारकरोड़रुपयेकानुकसानहुआ.