भ्रूण जांच के मामले में गिरफ्तार चारों आरोपित छूटे

सहारनपुर,जेएनएन।सहारनपुरजिलेमेंभ्रूणजांचकेंद्रचलरहेहैं,इसकीजानकारीभलेहीसहारनपुरकेचिकित्साविभागकोनहोपरंतुहरियाणापुलिसअकसरयहांआकरबिनाबताएछापेमारीकररहीहै।इसमामलेमेंजबसहारनपुरकेस्वास्थ्यविभागनेशिकायतदर्जकराईतोवहकानूनकोभूलगईऔरआधीअधूरीजानकारीलेकरअदालतजापहुंची।यहांउनकीदालनहींगलीऔरपकड़ेगएचारोंआरोपितोंकोअदालतनेजेलभेजनेसेइंकारकरदिया।अदालतनेविवेचककोइसमामलेमेंकहाकियदिस्वास्थ्यविभागहरियाणावकरनालपुलिसनेनिर्धारितप्रक्रियापूरीनहींकीहै,तोकरनालपुलिसकेखिलाफवैधानिककार्रवाईकरें।

यहथीआरोपितोंकेखिलाफरिपोर्ट

मंगलवारकोकरनालहरियाणाकेस्वास्थ्यविभागकीएकटीममयपुलिसबलकेसहारनपुरपहुंचीऔरछापेमारीशुरूकरदी।सबकुछहोजानेकेबादसहारनपुरकेस्वास्थ्यविभागकोसूचितकियागयातोस्वास्थ्यविभागकेडा.गीतारामनेभीखानापूर्तिकरतेहुएरिपोर्टदर्जकरादी।टीमनेमौकेसेआइपैडविदप्रोबबरामदकिया।सभीलोगोंकोहरियाणापुलिसपकड़करथानासदरलेआई।पकड़ेगएलोगोंकेनामजमीला,प्रदीपकुमार,रीनावजसवीरसिंहबताया।वादीडा.गीतारामनेरिपोर्टमेंयहभीलिखवायाकिकरनालटीमकेअनुसाररीना,प्रदीपकुमारवजमीलाअवैधरूपसेलिगपरीक्षणकाकार्यकरतेहैं।इसीआधारपरअभियोगपंजीकृतकियागया।

येआयाअदालतकाफैसला

सीजेएमअनिलकुमारकीअदालतमेंजबयहमामलापेशहुआतोगिरफ्तारहुएचारोंआरोपितोंकीओरसेअधिवक्तानेबहसकी।कहाकिजोधाराएंआरोपितोंपरलगाईगईहै,ऐसाकोईआरोपनहींबनता।इसमामलेमेंधोखाधड़ीकाकोईमामलानहींहै।इंडियनमेडिकलकाउंसिलएक्टमेंभीअधिकतमसजातीनवर्षकीहै।कोरोनाकालमेंसातवर्षतककेसजावालेमामलोंमेंगिरफ्तारीपररोकहै।पीसीपीएनडीटीअधिनियमकेअंतर्गतजितनीभीधाराएंलगाईगईहैं,उनमेंसेकोईभीधारादंडनीयअपराधकीश्रेणीमेंनहींआती।आरोपितोंकेअधिवक्तानेतोयहांतककहाकिहरियाणापुलिसनेयहसबकुछअवैधधनउगाहीकेलिएकियाहै।वहीं,अभियोजनविभागनेपुलिसकीकार्रवाईकासमर्थनकिया।दोनोंपक्षोंकोसुननेकेपश्चातसीजेएमअनिलकुमारनेचारोंआरोपीतोंकारिमांडनिरस्तकरदिया।साथहीविवेचककोनिर्देशदियाकियदिइसमामलेमेंस्वास्थ्यविभागकरनालवकरनालपुलिसनेनिर्धारितप्रक्रियाकापालननहींकियातोउनकेखिलाफसमुचितवैधानिककार्रवाईकरें।