Bihar Flood: लगातार गहरा रहा बाढ़ का कहर, टूट रहे बांध डूब रहे गांव; मौत का आंकड़ा 200 पार

पटना[जागरणटीम]।नेपालवबिहारकेकईइलाकोंमेंमानसूनकीबारिशकेसाथउत्तरबिहार,कोसीऔरसीमांचलमेंबाढ़काकहरफिरगहरागयाहै।नएइलाकोंमेंपानीघुसनेसेलोगोंकीमुश्किलबढ़नेलगीहै।बांध,पुलवसडकटूटरहेहैंतोघरभीगिररहेहैं।राहतवबचावकेबीचबाढ़केकारणमरनेवालोंकाआंकड़ादोसौपारकरगयाहै।उत्तरबिहारमेंशुक्रवारकोभीबारिशसेजनजीवनअस्तव्यस्तहै।नदियोंकेजलस्तरमेंवृद्धिजारीहै।गुरुवारकीबातकरेंतोचंपारण,सीतामढ़ी,मधुबनी,दरभंगाऔरमुजफ्फरपुरजिलेकेसैकड़ोंगांवोंमेंबाढ़कापानीघुसगयाहै।रक्सौलमेंत्रिवेणीनहरकातटबंधटूटनेसेकईगांवोंमेंपानीफैलगयाहै।सीतामढ़ीमेंराहतकोलेकरलोगोंनेहंगामाकिया।दरभंगाकेजालेमेंबाढ़पीडि़तोंनेप्रखंडप्रमुख-उपप्रमुखकोबंधकबनाया।

मौतकाआंकड़ादोसौपारआधिकारिकआंकड़ोंकेअनुसारबाढ़से123लोगोंमौतहुईहै।इनमेंसीतामढीके37,मधुबनीके30,अररियाके12,शिवहरएवंदरभंगाके10-10,पूर्णियाकेनौ,किशनगंजकेपांच,मुजफ्फरपुरकेचार,सुपौलकेतीन,पूर्वीचंपारणकेदोतथासहरसाकेएकव्यक्तिशामिलहैं।हालांकि,गैरसरकारीआंकडा़ेंकेअनुसारदोसौसेअधिकमौतेंहोचुकीहैं।सातनदियांखतरेकेनिशानसेऊपर,26टीमेंकररहींबचावबाढ़केकारणबिहारकीसातनदियोंखतरेंकेनिशानसेऊपरबहरहींहैं।बढ़ीगंडक,बागमती,अधवारासमूह,कमलाबलान,कोसी,महानंदाऔरपरमाननदियांकईजगहखतरेकेनिशानसेऊपरबहरहींहैं।इसबीचपीडि़तोंकेबचावमेंएनडीआरएफऔरएसडीआरएफकीकुल26टीमेंलगींहुईंहैं।विभिन्‍नजिलोंमेंचलाएजारहेकरीब42राहतशिविरोंमें22400लोगशरणलिएहुएहैं।पश्चिम-पूर्वीचंपारण,दरभंगा,सीतामढ़ीकेनएइलाकेडूबेश्चिमचंपारणजिलेमेंदोनके22गांवोंकासड़कसंपर्कलगातारचौथेदिनभीभंगहै।रामनगरप्रखंडकीगुदगुदीपंचायतकेगांवोंकोमसाननदीकेकहरसेबचानेकेलिएबनापायलटचैनलऔरपारकोपाइनबांधकानामोनिशानमिटगयाहै।एनएच-727परसिरौनावपचफेड़वागांवकेबीचडेढ़फीटपानीबहरहाहै।सिकटावमैनाटांडप्रखंडमुख्यालयसेअनुमंडलमुख्यालयकासंपर्कभीभंगहोगयाहै।

पूर्वीचंपारणमेंसिकरहनानदीकापानीसुगौलीशहरमेंप्रवेशकरगयाहै।बंगरीनदीकेदबावसेरामगढ़वाप्रखंडके बेलहियागांवकेपासत्रिवेणीनहरकातटबंधकरीब30फीटतकटूटगयाहै।

मधुबनीजिलेकेमधेपुरप्रखंडक्षेत्रमेंकोसी,भुतहीबलानवकमलानदीकेजलस्तरमेंवृद्धिजारीहै।मुजफ्फरपुरजिलेकेकटराऔरऔराईप्रखंडकेदर्जनोंगांवपानीसेघिरेहैं।समस्तीपुरजिलेकेकईहिस्सोंमेंबाढ़काकहरजारीरहा।सीतामढ़ीजिलेमेंजारीमूसलाधारबारिशसेबागमतीऔरअधवारासमूहकीनदियोंकेजलस्तरमेंतेजीसेवृद्धिहोरहीहै।सीतामढ़ीशहरकेकईमोहल्लेबाढ़केपानीकीगिरफ्तमेंहैं।

दरभंगाजिलेकेबाढ़प्रभावित14प्रखंडोंऔरनिगमक्षेत्रकेमोहल्लोंमेंबागमती,जीवछवकमलाबलानकेजलस्तरमेंकमीआईहै।वहीं,सदरप्रखंडमेंजीवछकेजलस्तरमेंबढ़ोतरीहुईहै।कुशेश्वरस्थानकी14पंचायतोंमेंस्थितिगंभीरबनीहुईहै।

सीमांचलवकोसीमेंभीबिगड़रहेहालात

उधर,पूर्वीबिहार,सीमांचलवकोसीमेंभीएकबारफिरहालातबिगड़हैं।पूर्णियामेंमहानंदा,परमान,कनकईआदिनदियोंकाजलस्तरअभीखतरेकेनिशानसेनीचेहैं,लेकिनपानीबढ़रहाहै।सुपौलमेंकोसीकेजलस्रावमेंउतार-चढ़ावजारीहै। सहरसामेंभीकोसीकेजलस्तरमेंबढ़ोतरीहुईहै।मधेपुरामेंकोसीवसुरसरनदीकेजलस्तरमेंकमीआनेसेनिचलेहिस्सोंमेंपहुंचापानीकमहोगयाहै।अररियामेंबहनेवालीबकरा,रतवा,नूनाआदिनदियोंकेजलस्तरमेंवृद्धिहुईहै।दहगामामेंनूनानदीकातटबंधकटावकाशिकारहोरहाहै।किशनगंजमेंमहानंदा,कनकई,मेंचीसमेतसभीछोटी-बड़ीनदियांउफानपरहैं।

अबखबरोंकेसाथपायेंजॉबअलर्ट,जोक्स,शायरी,रेडियोऔरअन्यसर्विस,डाउनलोडकरेंजागरणएप