बिना लाइसेंस के चल रहा था क्लीनिक, स्वास्थ्य विभाग की टीम ने की छापेमारी

जींद,जागरणसंवाददाता।जींदकेगांवछातरमेंस्वास्थ्यविभागकीटीमनेछापेमारीकरकेबिनालाइसेंसकेचलरहेक्लीनिककोपकड़ाहै।क्लीनिककेअंदरभारीमात्रामेंदवाइयांबरामदकीहैऔरमरीजोंकाइलाजकियाजारहाथा।स्वास्थ्यविभागकीटीमनेक्लीनिककोसीलकरदियाऔरउसकेसंचालककेखिलाफउचानाथानेमेंमामलादर्जकरवायाहै।

स्वास्थ्यविभागकीटीमकोसूचनामिलीथीकिगांवकहसूननिवासीडा.राजेंद्रसिंहगांवछातरमेंबिनालाइसेंसकेक्लीनिकचलारहेहैं।इसपरस्वास्थ्यविभागनेडिप्टीसिविलसर्जनडा.पालेरामकटारियावगांवछातरकेप्राथमिकचिकित्साअधिकारीडा.संदीपकुमारकेनेतृत्वमेंछापेमारदलकागठनकिया।इसपरस्वास्थ्यविभागकीटीमनेछापेमारीकीतोवहांपरडा.राजेंद्रसिंहक्लीनिकचलारहाथाऔरमरीजोंकाचेकअपकियाजारहाथा।जबटीमनेडा.राजेंद्रसिंहसेक्लीनिकचलानेकालाइसेंसमांगातोवहदिखानहींपाया।

क्लीनिककेअंदरभारीमात्रामेंदवाइयांरखीहुईथी।इसकेबादविभागकीटीमनेक्लीनिककोसीलकरदियाऔरदवाइयोंकेबारेमेंड्रगकंट्रोलकोसूचितकिया।इसकेबादड्रगकंट्रोलअधिकारीमनदीपमानमौकेपरपहुंचे।जहांपरड्रगकंट्रोलद्वारादवाइबेचनेसेसंबंधितलाइसेंसमांगातोआरोपितउसेभीनहींदिखापाया।इसकेबाददुकानकेअंदरसेकरीब610गोलियांबरामदकी।जिनकेमाध्यमसेडा.राजेंद्रसिंहमरीजोंकाइलाजकियाजारहाथा।

इसपरस्वास्थ्यविभागकीटीमनेइसकेबारेमेंपुलिसकोसूचितकिया।उचानाथानेमेंतैनातएसआइराममेहरनेबतायाकिस्वास्थ्यविभागकीतरफसेपत्रमिलाथा।उसमेंबिनालाइसेंसकेक्लीनिकचलानेपरगांवकहसूननिवासीडा.राजेंद्रकेखिलाफमामलादर्जकियाहै।वहींविभागनेडा.राजेंद्रसिंहउसकीडिग्रीसेसंबंधितदस्तावेजभीमांगेहैं।