चढ़ते पारे में हलक तर करना हुआ मुश्किल

संवादसूत्र,ताड़ीखेत(रानीखेत):ब्लॉकमुख्यालयकेबाजारक्षेत्रवआसपासकेगावोंमेंसमानपेयजलवितरणचुनौतीबनगयाहै।चढ़तेपारेकेसाथबढ़तीजरूरतोंकेबीचकस्बेमेंएकओरपानीकेलिएरोजहाहाकारतोदूसरीतरफविभागीयअधिकारीकहतेहैं,हलकतरकरनेलायकपानीदियाजारहाहै।लाइनकेबीचसेपानीकहाकिसओरनिकलरहा,यहयक्षसवालबनगयाहै।

ताड़ीखेतकस्बेवआसपासकेगावोंकेलिएतीनपेयजलयोजनाएंवमुख्यश्रोतहोनेकेबावजूदपानीकेलिएत्राहित्राहिमचीहै।बाजारक्षेत्रकेसाथहीइससलगेपथुलीवसिमोलीगावकेबाशिदेविकटसमस्यासेजूझरहे।ग्रामीणोंकोपेयजलकेलिएघटोंलाइनमेंलगनापड़रहा।

यहहालतबहैजबलगभगपाचहजारकीआबादीकेलिएऋषिगाढ़,गगासवचिलियानौलापंपिंगयोजनातथाएकप्राकृतिकजलस्त्रोतसेजलापूर्तिकीव्यवस्थाहै।हैरतकीबातहैकिइसकेबावजूदलोगबूंदबूंदकोतरसरहे।

सिमोलीकेटैंककाचैंबरहीटूटा

स्थानीयलोगविभागपरदोषमढ़रहे।सिमोलीकेनरेशनेगीकहतेहैंगावमेंबनेटैंकमेंढक्कनहीनहींहै।चैंबरभीक्षतिग्रस्तहै।सुरेशचंद्रपाडेकेअनुसारछहदिनमेंएकाधबारपानीआरहा,वहभीनाकाफीसाबितहोरहा।

पानीचोरीसेज्यादाबढ़ीकिल्लत

ताड़ीखेतसंघर्षसमितिअध्यक्षगोपालसिंहअधिकारीकाकहनाहैकिब्लॉकमुख्यालयकेपासबनेवितरणटैंकमेंजोपानीस्टॉकहोरहा,वहचोरीकियाजारहाहै।उन्होंनेकहाकिरातमेंटैंकभरनेकेबाद,अगलीसुबहकरीबकरीबखालीहोजाताहै।उन्होंनेपानीचोरनेवालेअसामाजिकतत्वोंकीधरपकड़कीमागउठाई।

'ऋषिगाढ़पेयजलयोजनाकेस्त्रोतमेंपानीकमहोगयाहै,लेकिनतिपौलाचिलियानौलापंपिंगयेजनासेकामचलानेलायकपर्याप्तपानीदियाजारहा।टैंकपूराभरभीरहेहैं।बगैरलाइनखोले,पानीकौनचोररहायहपतालगाएंगे।

-मनोजपाडे,जेई,जलसंस्थान'