चीन के डर से अमेरिका के आगे हम भिखारी, मणिशंकर अय्यर के कहते ही लोगों ने याद दिलाई राहुल गांधी की चीनी राजदूत से गुप्त मीटिंग

नईदिल्‍लीवरिष्‍ठकांग्रेसीमणिशंकरअय्यरकीताजाटिप्‍पणीविवादोंकेघेरेमेंहै।नरेंद्रमोदीसरकारकीविदेशनीतिपरसवालउठातेहुएउन्‍होंनेकहाकिपिछलेसातसालोंमेंहम'अमेरिकाकेगुलाम'बनगएहैं।अय्यरनेइंडो-रशियाफ्रेंडशिपसोसायटीकेएककार्यक्रममेंयहटिप्‍पणीकी।उन्‍होंनेकहा,'पिछलेसातसालमेंहमदेखरहेहैंकिगुटनिरपेक्षता,शांतिकीबातहीनहींहोतीहै।अमेरिकंसकेगुलामबनकरबैठेहैंऔरकहतेहैंकिहमेंबचालो...किससेबचाओ?वोकहतेहैंकिचीनसेबचो।'अय्यरकीइसटिप्‍पणीपरबीजेपीकीतरफसेतोतीखीप्रतिक्रियाआईहीहै,सोशलमीडियापरभीउनकीछीछालेदरहोरहीहै।इसीबहानेकईलोगोंनेकांग्रेसकेपूर्वअध्‍यक्षराहुलगांधीसेचीनीराजदूतकीगुप्‍तमुलाकातयाददिलादी।ट्विटरपरकईयूजर्सलिखरहेहैंकिअय्यरअपनेबयानोंसेकांग्रेसकीमिट्टीपलीदकरातेरहतेहैं,अक्‍सरचुनावोंसेठीकपहले।ManiShankarAiyarnews:भाजपाकेलोगमुझे‘बाबरकीऔलाद’कहतेहैं...मणिशंकरअय्यरबोले-हमअकबरकोगैरनहींसमझतेखूबट्रोलकिएजारहेहैंअय्यरऔरकांग्रेसअय्यरकीताजाटिप्‍पणीकोसोशलमीडियापरएकधड़ाआगामीविधानसभाचुनावोंसेजोड़करदेखरहाहै।कईट्वीट्समेंकहागयाकिअय्यरकायहबयानपांचराज्‍योंमेंहोनेवालेविधानसभाचुनावमेंकांग्रेसकोडुबोदेगा।कईलोगोंनेपाकिस्‍तानकोलेकरबार-बारअय्यरकेमुंहसेनिकलेप्‍यारभरेबयानोंकोभीसाझाकियाहै।भारतको'गुलाम'बताकरअय्यरनेअभिनेत्रीकंगनारनौतके'आजादी'वालेबयानसेभीध्‍यानअपनीओरकरलियाहै।कंगनानेएकइवेंटमें1947मेंमिलीस्‍वतंत्रतापरसवालउठाएथे।2017मेंचीनीराजदूतसेमिलेथेमोदीतबकांग्रेसउपाध्‍यक्षरहेराहुलगांधीनेजुलाई2017मेंतत्‍कालीनचीनीराजदूतलूझाओहुईसेमुलाकातकीथी।हालांकिबादमेंचीनीदूतावासनेइसकथितमुलाकातसेसबंधितजानकारीकोअपनीवेबसाइटसेहटादिया।कांग्रेसकीओरसेभीशुरूमेंइसबातकाखंडनकियागयाकिराहुलनेऐसीकोईमुलाकातकीहै।फिर10जुलाईकोराहुलनेखुदहीएकट्वीटमेंमुलाकातकीपुष्टिकरदी।चीनीराजदूतलूझाओहुईसेमिलनेपरराहुलगाँधीनेट्वीटकरकियाअपनाबचाव'मोदीसरकारनेरूससेबिगाड़ेरिश्‍ते'अय्यरनेकार्यक्रममेंकहाकि2014केबादसेरूसकेसाथहमारेसंबंधोंकोचोटपहुंचीहै।अय्यरनेयहभीकहाकि'अमेरिकाकेसाथहमारेरिश्‍तोंमेंकईबारतनातनीभीहुई।हालांकि,रूसकेसाथऐसाकभीनहींहुआ।चाहेवहतबकासोवियतयूनियनहोयाआजकारशियनफेडरेशन।हमनेएक-दूसरेकोहमेशाबराबरीकेसाथदेखा।'उन्‍होंने'हरवक्‍तमेंसाथदेनेवाले'रूसकेसाथभारतकेसंबंधसुधारनेकीअपीलकी।अय्यरनेकहाकिकांग्रेसइसकेलिएकामकरेगी।