देश में शिक्षा व अर्थव्यवस्था का गिर रहा स्तर : शैलेंद्र

मोतिहारी।बढ़तीबेरोजगारीवबिगड़तीअर्थव्यवस्थाकेखिलाफअबकांग्रेसचुपनहींबैठेगी।इसकोलेकरअखिलभारतीयकांग्रेसकमेटीवप्रदेशकांग्रेसकमेटीकेअध्यक्षडॉ.मदनमोहनझाकेनिर्देशपर19से24नवंबरतकजिलेमेंव्यापकआंदोलनरतहै।कार्यक्रमकेदूसरेदिनशहरकेमीनाबाजारस्थितगांधीचौकपरजिलाध्यक्षशैलेंद्रकुमारशुक्लकेनेतृत्वमेंनुक्कड़सभाकाआयोजनकियागया।श्रीशुक्लनेमोतिहारीकीजनतावआंदोलनमेंशामिलकार्यकर्ताओंकोसंबोधितकरतेहुएबिगड़तीअर्थव्यवस्था,बेरोजगारीवगिरतीशिक्षाकेप्रतिचिताजताई।उन्होंनेकहाकिकहाकिकेंद्रसरकारकीगलतनीतियोंकेकारणदेशमेंअराजकस्थितिउत्पन्नहोगईहै।उन्होंनेसरकारसेअविलंबइस्तीफेकीमांगकीऔरकहाकिदेशकीस्थितिनिरंतरबदसेबदतरहोतीजारहीहै।सभाकोसंबोधितकरनेवालोंमेंप्रो.विजयशंकरपांडेय,रवींद्रप्रतापसिंह,औबेदुर्रहमान,सत्येंद्रनाथतिवारी,मुनमुनजायसवाल,कमलेश्वरगुप्ता,बिट्टूयादव,अनवरआलमअंसारी,अहमदचांद,राजकुमार,अंजुमन,अजयकुमारश्रीवास्तव,अरूणयादव,अरूणप्रकाशपांडेय,दिलनवाजरशीद,बच्चीपांडेय,नेयाजअहमद,डॉ.जियाउलहक,राहुलशर्मा,आमीरजावेद,जमीलअख्तर,रविरंजनकुमारआदिशामिलहै।