धरती का होगा श्रृंगार, पहनाएंगे पौधों के हार

गौरवभारद्वाज,हापुड़:

दैनिकजागरणकीमुहिमआओरोपेंअच्छेपौधेअभियानमेंसरकारीविभागोंकीभीपूरीसहभागितारहेगी।जिलाधिकारीनेसभीसरकारीविभागोंकोपौधारोपणकालक्ष्यआवंटितकरदियाहै।जुलाईमाहमेंजिलेमें12.46लाखसेअधिकपौधेरोपेजाएंगे।कोरोनामहामारीकोदेखतेहुएऔषधीयपौधोंकेसाथआक्सीजनदेनेवालेपौधोंकीसंख्याबढ़ादीहै।

जनपदमेंएकजुलाईसेसातजुलाईतकसरकारीविभागोंमेंपौधारोपणअभियानचलेगा।जिसमेंविभिन्नस्थानोंपरऔषधीयऔरआक्सीजनदेनेवालेपौधेरोपेजाएंगे।वनविभागकेअपरसांख्याधिकारीममितराणानेबतायाकिऔषधीयपौधोंकामहत्वकुदरतकेदिएगएवरदानोंमेंपेड़-पौधोंकामहत्वपूर्णस्थानहै।पेड़-पौधेमानवीयजीवनचक्रमेंअपनीमहत्वपूर्णभूमिकानिभातेहैं।इनसेनकेवलभोजनसंबंधीआवश्यकताओंकीपूर्तीहोतीहैंबल्किजीवजगतसेनाजुकसंतुलनबनानेमेंभीयेआगेरहतेहैं।कार्बनचक्रहोयाभोजनश्रृंखलाकेपिरामिडमेंभीयेसर्वोच्चस्थानहासिलकरतेहैं।इनकीउपयोगिताकोदेखतेहुएइसबारअभियानमेंइनकीवृद्धिकीहै।उन्होंनेबतायाकिजिलेकीदोपौधशालाओंमें19लाखसेअधिकपौधेतैयारकिएजारहेहैं।विभागोंसेगड्ढाखोदाईकीरिपोर्टभीमांगलीहै।पौधारोपणमेंआमलोगोंकीभीजोड़ाजाएगा।

औषधीयपौधोंकीविशेषता

प्राचीनकालसेहीमनुष्यरोगनिदानकेलिएविभिन्नप्रकारकेपौधोंकाउपयोगकरताआयाहै।औषधिप्रदायकरनेवालेपौधेअधिकतरजंगलीहोतेहैं।कभी-कभीइन्हेंउगायाभीजाताहै।पौधोंकीजड़े,तने,पत्तियां,फूल,फल,बीजऔरयहांतककिछालकाउपयोगभीउपचारकेलिएकियाजाताहै।औषधीयपौधोंमेंनीम,तुलसी,सहजन,आंवला,बहेड़ा,अर्जुनआदिपौधेहैं।इसकेअलावापीपल,नीमकेपौधेसबसेअधिकआक्सीजनदेतेहैं।

किसविभागकोकितनाकरनाहैपौधारोपण

वनविभाग289000,पर्यावरण100000,ग्राम्यविकास434280,राजस्व49440,पंचायतीराजविभाग49440,औद्योगिकविकासविभाग3840,नगरविकास31320,लोकनिर्माण11040,जलशक्तिविभाग11040,रेशमविभाग23769,कृषिविभाग83364,पशुपालनविभाग6240,सहकारिताविभाग2040,उद्योगविभाग8520,विद्युतविभाग6000,माध्यमिकशिक्षा996,बेसिकशिक्षा996,प्रावधिकशिक्षा4680,उच्चशिक्षा17640,श्रमविभाग3360,स्वास्थविभाग9960,परिवहनविभाग3360,रेलवेविभाग20040,रक्षाविभाग7200,उद्यानविभाग54818,पुलिसविभाग/गृहविभाग7200हैं।

जिलेकीपौधशालाओंमेंतैयारपौधोंकीस्थितिप्रजातिकानामसंख्या

केसिआश्यामिया9322

अरिकुलीफर्मिस41892