धसान की मरम्मत कर ग्रामीणों ने बांध को टूटने से बचाया

दरभंगा।केवटीकीमाधोपट्टीपंचायतमेंबीतेगुरुवारकोबागमतीनदीकापश्चिमीतटबंधदोजगहोंपरधंसगया।इससेपानीधीरे-धीरेनिकलकरगांवमेंफैलनेलगाथा।यहदेखतेहीग्रामीणोंनेतटबंधकेदोनोंधसानकीमरम्मतकरतटबंधटूटनेसेबचालिया।पूर्वमुखियाअरविदपाठक,पूर्वजिपससंजययादवनेबतायाकिप्रशासनकेसहयोगसेग्रामीणोंनेमशक्कतकरसिर्फकोतटबंधटूटनेसेहीनहींबचाया।बल्कि,करीबआधादर्जनरिसावजगहोंकोभीबंदकरदियाहै।इससेतत्कालखतरातोटलगयाहै।लेकिन,नदीमेंजलस्तरबढ़ाहुआहै।कबक्याहोगा,कहानहींजासकताहै।इधर,केवटीप्रखंडकीपिडारूछपंचायतकेमोहनमठमेंमंगलवारदेररातटूटेतटबंधसेनिकलरहेपानीकेबहावकोरोकदीगई।लेकिन,गोपालपुरमें17और19जुलाईकोटूटेतटबंधसेपानीकानिकलनाजारीहै।इससेलोगोंकीपरेशानीकमहोनेकानामनहींलेरहाहै।

हायाघाट:जहांकभीघर-आंगनहुआकरतेथे,वहांआजपानीहीपानीहै।किसकीजमीनऔरकिसकादरवाजाकिधरहै।यहपहचानपानाभीमुश्किलहोरहाहै।प्रखंडकेपश्चिमीविलासपुर,घरारी,सरायहामिद,नयाटोला,अकराहादक्षिणी,मोहम्मदपुरसिरनियांकायहीहालबनाहुआहै।उक्तगांवोंमेंमहाआपदाकारूपलेचुकीबाढ़सेअबभीजनजीवनपूरीतरहबेपटरीहै।उक्तगांवमेंअबभीबड़ीआबादीबाढ़सेघिरीहुईहै।वहींउक्तगांवोंकेहजारोंकीतादादमेंलोगबांध,सड़कवअन्यऊंचेस्थानोंपरशरणलिएहुएहैं।तोकाफीसंख्यामेंलोगघरकेछतअथवाअगल-बगलकेऊंचेस्थलोंपरशरणलिएहुएहैं।गांवकेऊंचीजगहपरएक-दोबचेचापाकलवसरकारीस्तरसेगड़ाएगएचापाकलसेलोगअपनीप्यासबुझारहेहैं।बाढ़पीड़ितरातकीअंधेरेमेंशौचकरनेकीसमस्याभीउत्पन्नहोगईहै।रातकेअंधेरेमेंहमेशाडरसमाएरहताहैकिकहींसांपनहींआजाए।पतानहींयहस्थितिकब-तकबनीरहेगी।अभीघररहतेहुएभीबेघरहुएलोगखुलेआसमानकेनीचेप्लास्टिककीचादरडालकरदिनकाटरहेहैं।वहींहवाकेझोंकोवबारिशनेभीइनकाजीनादुश्वारकरदियाहै।