दिल्ली गैंगरेपः दो वकीलों ने केस के खुद को अलग किया

राजधानीदिल्लीमेंपिछलेवर्ष16दिसंबरकोहुएसामूहिकबलात्कारऔरहत्याकेमामलेमेंमौतकीसजापाएदोदोषियोंमुकेशऔरपवनकुमारगुप्ताकेवकीलोंनेदिल्लीहाईकोर्टकोसूचितकियाकिदोषियोंकेपरिवारद्वारामामलेमेंकिएजारहेकथितहस्तक्षेपकेआधारपरवेखुदकोइसमामलेसेअलगकररहरहेहैं.

इसमामलेकेदोषीमुकेशकेवकीलवीकेआनंदनेकोर्टरेवाखेत्रपालऔरप्रतिभारानीकीखंडपीठकोबतायाकिइसमामलेमेंयाचिकादायरकरनेलिएदोषीकेपरिवारवालेउनकेकाममेंहस्तक्षेपकररहेहैं.

उन्होंनेकहा,‘कुछलोगमेरेकाममेंहस्तक्षेपकीकोशिशकररहेहैंऔरइसलिएमैंखुदकोइसमामलेसेअलगकरनाचाहताहूंऔरअदालतमुझेइसकामसेमुक्तकरदे.’इसकेसाथहीउन्होंनेबतायाकिउन्होंनेमुकेशकेभाईकोअपनेइसफैसलेअवगतकरादियाहै.

खंडपीठनेउनकायहनिवेदनस्वीकारकरतेहुएकहा,‘हमआपकेनिर्णयमेंहस्तक्षेपनहींकरसकते.’

इसबीचविशेषलोकअभियोजकदयाकृष्णननेखंडपीठकोबतायाकिइसमामलेकेएकअन्यदोषीपवनकेवकीलविवेकशर्मानेभीउन्हेंफोनकरइसमामलेसेखुदकोअलगकरनेकीअपनीइच्छासेअवगतकराया.वकीलोंकेइसनिवेदनकेबादखंडपीठनेकहा,‘इनपरिस्थितियोंमेंहमेंमुकेशऔरपवनकेलिएन्यायमित्रोंकीनियुक्तीकरनीहोगी.’खंडपीठनेकहा,‘मुकेशऔरपवनकुमारगुप्ताकीबुधवारकोअदालतमेंपेशीकेलिएवारंटजारीकियाजाए.’

इसमामलेमेंअदालतकीसहायताकेलिएआनंदस्वेच्छासेन्यायमित्रबनेथे.हालांकिखंडपीठनेकहा,‘इसमामलेमेंअगरहमआपकोबतौरन्यायमित्रनियुक्तकरतेहैं,तोयहउचितनहींहोगा.’इसमामलेकेदोअन्यदोषीविणयशर्माऔरअक्षयठाकुरनेसुनवाईअदालतद्वाराक्रमश:10और13सितंबरकोदिएगएआदेशऔरसजाकेखिलाफबुधवारकोसंयुक्तअपीलदायरकीहै.हालांकिमुकेशऔरपवननेअभीतकअपीलदायरनहींकीहै.

दक्षिणदिल्लीमेंपिछलेवर्ष16दिसंबरकीरातएकचलतीबसमें23वर्षीयलड़कीकाबलात्कारऔरहत्याकरनेकेदोषीकरारदिएगएइनचारोंकोअदालतनेमौतकीसजासुनायीथी.