दिल्ली के लाखो लोगों को खुशखबरी देने की तैयारी, केजरीवाल सरकार लगाएगी कई जगहों पर आरओ संयंत्र

नईदिल्ली[संतोषकुमारसिंह]।दिल्लीसरकारराजधानीमेंरिवर्सऑस्मोसिस(आरओ)संयंत्रस्थापितकरनेकीयोजनाबनारहीहै।इसयोजनाकोउनक्षेत्रमेंलागूकियाजाएगा,जहांभूजलकास्तरअधिकहै,लेकिनखारेपनऔरटीडीएस(टोटलडिसाल्व्डसालिड)ज्यादाहोनेकेकारणपानीउपयोगकरनेयोग्यनहींहै।दिल्लीकेजलमंत्रीऔरदिल्लीजलबोर्ड(डीजेबी)केअध्यक्षसत्येंद्रजैननेअधिकारियोंकेसाथबैठककरइसपरियोजनाकीतैयारियोंपरचर्चाकी।

उन्होंनेकहाकिसाधारणआरओसिस्टममेंकाफीमात्रामेंपानीकीबर्बादीहोतीहै।इसेध्यानमेंरखकरदिल्लीसरकारअत्याधुनिकतकनीकआरओसंयंत्रलगाएगीजिससे80फीसदपानीकाउपयोगहोसकेगा।पहलेचरणमें363मिलियनलीटरप्रतिदिन(एमएलडी)कीकुलक्षमतावालेआरओसंयंत्रचिन्हितस्थानोंपरलगाएजाएंगे।

इससेखराबगुणवत्तावालेभूजलकोसाफकरकेघरोंमेंआपूर्तिकीजाएगी।नजफगढ़क्षेत्रमेंपानीदो-तीनमीटरकीगहराईपरहीउपलब्धहै,लेकिनखारेपनकीवजहसेइसपानीकाउपयोगनहींकियाजासकता।इसतरहकेअन्यस्थानोंपरभीआरओसंयंत्रलगाएजाएंगे।इसपरियोजनाकेपहलेचरणमेंओखला,द्वारका,नीलोठी-नांगलोई,चिल्लाऔरनजफगढ़मेंएकवर्षकेअंदरइसतरहकेसंयंत्रलगानेकालक्ष्यनिर्धारितकियागयाहै।

उन्होंनेकहाकिकेंद्रीयभूजलबोर्डकीरिपोर्टकेअनुसार,दिल्लीकेभूजलमें22लाखमिलियनगैलनलीटरसेअधिकखारापानीहै।इसपानीकोपीनेयोग्यबनानेकेलिएइसेआरओसेशोधितकरनेकीजरूरतहै।उन्होंनेबतायाकिनिजीनिवेशकआरओसंयंत्रकीस्थापनामेंनिवेशकरेंगेऔरदिल्लीजलबोर्डउनसेनिर्धारितदरपरसाफकियापानीखरीदेगा।इसप्रक्रियाकेदौराननिकलेहुएकचरेकोपर्यावरणकेअनुसारनिस्तारितकियाजाएगा।

मंत्रीनेअधिकारियोंकोउनक्षेत्रोंमेंछोटेआरओसंयंत्रलगानेकेभीनिर्देशदिए,जहांटैंकरोंकेमाध्यमसेपानीकीआपूर्तिकीजातीहै।प्रत्येकपांचसौघरोंपरएकछोटाआरओसंयंत्रलगेगा।दोहजारकीआबादीवालीप्रत्येकझुग्गीमेंकमसेकमएकआरओसंयंत्रलगानेकाफैसलाकियागयाहै।