दो हाथ से कमाओ, चार हाथ से बांटो : मोरारी बापू

जागरणसंवाददाता,फरीदाबाद:मानवरचनाशैक्षणिकसंस्थानकेतत्वावधानमेंआयोजितमोरारीबापूकीश्रीरामकथामेंसोमवारको12हजारश्रद्धालुओंकेसाथ-साथप्रदेशकेवीआइपीलोगभीबापूकाआशीर्वादलेनेआए।सेक्टर-12मैदानमेंजारीकथामेंप्रदेशकेपूर्वमुख्यमंत्रीभूपेंद्र¨सहहुड्डा,प्रदेशकेशिक्षामंत्रीप्रोफेसररामबिलासशर्मा,विधायकसीमात्रिखावललितनागर,पूर्वमंत्रीशिवचरणलालशर्मा,पूर्वमुख्यसंसदीयसचिवशारदाराठौरप्रमुखरूपसेशामिलहुए।

तीसरेदिनबापूनेकहाकिव्याभिचारीकोभक्तिकानहीं,व्याभिचारकात्यागकरनाचाहिएऔरचतुराईछोड़करकृपाप्राप्तकरनेकोकहा।बापूनेखुदकोरूपांतरितकरनासीखनेकीसीखदीऔरकहाकिपानीरूपांतरितनहींहोता,सिर्फपरिवर्तितहोताहै।पानीनदूधबनेगा,नजहरबनेगा,पानीमीठाहोगा,खाराहोगा,बादलबनेगापररहेगापानीही।इसीतरहगायकेथनसेनिकलादूध,प्रकाशबनजाताहैऔरदहीबनजाताहै,घीबनजाताहै,लेकिनवापसकभीदूधनहींबनसकता।मनुष्यभीपानीकीतरहकीहै।थोड़ीदेरकेलिएगमहुएफिरअविरलहोगए,इसलिएखुदकोपरिवर्तितनहींकरना,सिर्फरूपांतरितकरनाहै।बापूनेकहा,'दोहाथसेनरबनकरकमाना,चारहाथसेनारायणबनकरबांटना'।कथाकेदौरानबापूकेभजनोंपरपूरापंडालझूमउठा।कथासमाप्तिकेबादविशिष्टअतिथिआरतीमेंशामिलहुएऔरमोरारीबापूकाआशीर्वादलिया।आयोजनसमितिकीओरसेमानवरचनासंस्थानकेअध्यक्षडॉ.प्रशांतभल्ला,उपाध्यक्षडॉ.अमितभल्ला,संरक्षकसत्याभल्ला,उद्यमीएचकेबत्रावजेपीमल्होत्रा,राजीवचावलानेअतिथियोंकास्वागतकिया।इसअवसरपरकांग्रेसनेतालखन¨सगला,गुलशनबग्गा,महापौरअशोकअरोड़ा,पूर्वपार्षदयोगेशढींगड़ामौजूदभीमौजूदथे।