दो विभागों के बीच फंसी एक सड़क, बार-बार निर्माण होता है मगर दूर नहीं होती गंदगी

जागरणसंवाददाता,बहादुरगढ़:

शहरकीएकसड़कऐसीहै,जिसकानिर्माणतोकईबारहोचुकाहै,लेकिनयहांसेगंदगीदूरनहींहोती।गंदापानीजमारहनेसेहीइससड़ककेजल्दीटूटनेकीनौबतआतीहै।यहएकतरहसेदोविभागोंकेबीचफंसीहुईहै।अबफिरसेइससड़ककेटूटनेकीनौबतआचुकीहै,वजहयहहैकिइसपरदूरतकगंदापानीजमाहै।यहसड़कदिल्लीरोडसेसिविलअस्पतालकेसाथबिजलीनिगमऔरलाइनपारक्षेत्रकीतरफजातीहै।बीचमेंकईऔररास्तोंरास्तोंसेयहसड़कजुड़ीहै।दिनभरमेंइससड़कसेसैंकड़ोंवाहनगुजरतेहैं।मगरइससड़कसेगंदेपानीकीनिकासीकीव्यवस्थानहींहोपारहीहै।इसवजहसेटूटतीहैसड़क:

इससड़कपरगंदापानीहरवक्तजमारहताहै।सीवरओवरफ्लोहोनेसेभीइससड़कपरगंदगीफैलजातीहै।उसीवजहसेयहसड़कबार-बारटूटतीहै।जबगड्ढेबनजातेहैं,तबइससड़ककानिर्माणतोहोजाताहै,लेकिनयहांपरगंदेपानीकीनिकासीकीव्यवस्थानहींहोरहीहै।लोंगोंकाकहनाहैकियदिगंदापानीजमानरहे,तोइससड़ककेबार-बारटूटनेकीनौबतभीनआए।दूसरा,इससड़ककीगंदगीसिविलअस्पतालपरिसरकेअंदरतकफैलजातीहै।मुख्यगेटपरहरवक्तकीचड़रहताहै।इनविभागोंकेबीचफंसीहैसड़क:

इससड़ककेएकतरफतोसिविलअस्पतालहैऔरदूसरीतरफपुरानाऔद्योगिकक्षेत्र।एचएसआइआइडीसी(हरियाणाराज्यऔद्योगिकसंरचनाएवंविकासनिगम)कीओरसेपुरानाऔद्योगिकक्षेत्रकीदेखरेखकीजातीहै।यहसड़कइसीक्षेत्रकाएकतरहसेहिस्साहै,लेकिनयहांपरगंदेपानीकीनिकासीकोलेकरएचएसआइआइडीसीकातर्कहैकियहजिम्मेदारीनगरपरिषदकीहै।वर्जन..

सड़कपरसफाई,गंदेपानीकीनिकासीऔरलाइटोंकीजिम्मेदारीनगरपरिषदकीहै।इनसुविधाओंकेलिएनगरपरिषदटैक्सभीलेतीहै।

-नवीनमलिक,सहायकमैनेजर,एचएसआइआइडीसीइसबारमेंजूनियरअधिकारियोंसेतकनीकीरिपोर्टलीजाएगी।इससड़कपरजरूरीव्यवस्थाओंकाजिम्माकिसविभागकाहै,इसबारेमेंपताकरकेआवश्यककदमउठायाजाएगा।

-संजयरोहिल्ला,कार्यकारीअधिकारी,नगरपरिषद,बहादुरगढ़