दरभंगा में तालाबों के स्वरूप के साथ छेड़छाड़, करोड़ों के भाव बिक रही जमीन

दरभंगा,जासं।तालाबोंकेशहरसेनामसेप्रसिद्धदरभंगाजिलाआजअपनाअस्तित्वबचानेकीकगारपरहै।कारण-तालाबोंकोभू-माफियाओंकीनजरलगगईहै।इसकीबानगीपहलेतालाबोंकेवर्तमानढ़ाचेकोदेखकरलगाईजासकतीहै।शहरीक्षेत्रमेंबचेतालाबोंकेढ़ाचेकोगौरसेदेखेतोपताचलेगाकिदिन-प्रतिदिनतालाबचारोंओरसेसिकुड़तीजारहीहै।तालाबोंकेकिनारेपहलेकचराफेंकाजाताहै।फिरउसेफैलायाजाताहै।बादमेंमिट्टीडालीजातीहैऔरअंतमेंबहुमंजिलाइमारतोंकानिर्माणकार्यशुरूहोजाताहै।हो-हंगामाइसलिएनहींहोताक्यूंकियेतालाबकिसीकीनिजीसंपतिनहींहै।

यहक्रमतबतकचलतारहताहै,जबतकतालाबोंकेएकबड़ेभू-भागकोनहींभरदियाजाता।इसखेलमेंभू-माफियासेलेकरअधिकारीऔरसंबंधितविभागकेकर्मचारीभीशामिलहै।यहींकारणहैंकिवर्तमानमेंशहरमेंजितनेभीसरकारीतालाबहै,उनकास्वरूपबदलगयाहै।यदितालाबोंकाखेसरानिकालाजाएतोदूधकादूधऔरपानीकापानीहोजाएगा।लेकिन,आश्चर्यकीबातयहहैकिकईसरकारीजमीनवतालाबोंमेंसेअधिकांशकेकागजातगायबहै।यहांतककीसंबंधितअंचलाधिकारी,जोसरकारीजमीनकेसंरक्षकहोतेहै,वेभीइसकेप्रतिउदासीनबनेहुएहै।कारणजोभीहो,लेकिनबिनासरकारीकर्मीकेसंलिप्ताकेयहसंभवनहींहै।शहरकेछोटेतालाबोंकीबाततोदूर,शहरकेऐतिहासिकपांचतालाबोंपरभीभू-माफियाओंकीनजरहै।इसमेंहराही,दिग्धी,गंगासागर,मिर्जाखांऔरलक्ष्मीसागरपोखरशामिलहै।

इनतालाबोंकेचारोंतरफअवैधभवनोंकानिर्माणकरालियागयाहै।सुप्रीमकोर्टकेआदेशपरनगरनिगमनेकईबारतालाबोंकीमापीकराई।अतिक्रमणकारियोंकोचिन्हितकरनोटिसदिया।खानापूर्तिकेतहततीनसेचारबारबुलडोजरभीचलायागया।लेकिन,एक-दोमकानोंकोछोड़करअन्यपरकोईकार्रवाईनहींकीगई।नतीजा,अतिक्रमणकारियोंकेहौंसलेबुलंदहोतेचलेगएऔरतालाबोंकाक्षेत्रफलसिमटताचलागया।

मखानाव स‍िंघाड़ाकीखेतीकोलगीभू-माफियाओंकीनजर

तालाबोंकेशहरकाफायदाजिलेकोमखाना,मछलीऔरस‍िंघाड़ाकीखेतीसेमिलरहाथा।लेकिन,जबसेतालाबभू-माफियाओंकीपंसदबनेहै,इसकीखेतीकोपहलेग्रहणलगनाशुरूहुआ,बादमेंयेबंदीकीकगारतकपहुंचगए।प्रशासनिकउदासीनताऔरस्थानीयलोगोंकीविवशतासेभू-माफियाफलते-फूलतेचलेगए।यहांतककीजोतालाबमस्त्यविभागकेअधीनतालाबहै,उनकीदेखरेखभीसंबंधितविभागनहींकरपारहाहै।केवलराजस्वसेइनविभागकोमतलबरहगयाहै।