एक गांव ऐसा भी जहां की महिलायें पानी लाने जाती हैं दूसरे देश, जानिए

पश्चिमीचंपारण[प्रभातमिश्र]।यहकहानीहैबिहारकेपश्चिमीचंपारणजिलेकेनरकटियागंजकेभिखनाठोरीगांवकीहै,जहांकीदिनचर्यापानीढोनेसेशुरूहोतीहै।प्रतिदिनडेढ़किलोमीटरकीदूरीतयकरग्रामीणनेपालकेठोरीगांवसेपीनेकापानीलातेहैं।गांवसेसटीपंडईनदीबहतीहै,जिसकेपानीकाउपयोगग्रामीणअन्यदैनिककार्योंमेंकरतेहैं।पिछलेडेढ़सालोंसे1200कीआबादीयहसमस्याझेलरहीहै।

इससेपहलेप्रशासननरकटियागंजसेटैंकरकेजरिएगांवमेंपानीसप्लाईकरताथा।इसेइसलिएबंदकरदियागया,क्योंकिपेयजलसुविधामुहैयाकरानेकेलिएलोकस्वास्थ्यअभियंत्रणविभाग(पीएचईडी)नेदोसोलरआधारितवाटरपंपलगवादिए।एककुछहीदिनोंमेंबंदहोगया,जबकिदूसरेसेलालपानीआताहै,जोउपयोगलायकनहीं।

पहाड़सेकमनहींपानीकीसमस्या

नेपालसीमापरबसापश्चिमचंपारणजिलेकाअंतिमगांवभिखनाठोरी।गौनाहाप्रखंडकेपहाड़ीइलाकेमेंबसेइसगांवके200घरोंकीतकरीबन1200आबादीकीसमस्याएंकिसीपहाड़सेकमनहींहैं।दिनचर्यापानीकीचिंतासेशुरूहोतीहै।सुबहहोतेहीमहिलावपुरुषपानीलेनेचलपड़तेनेपालकीओर।रास्तेमेंपंडईनदीपड़तीहै,जिसेपारकरवेनेपालकेठोरीगांवपहुंचतेहैं।यहांपहाड़सेपानीरिसतारहताहै।सुविधाकेलिएग्रामीणोंनेगड्ढेकेबीचएकप्लास्टिककीपाइपडालरखीहै,जिससेपानीगिरताहै।पानीलानेमेंग्रामीणोंकारोजानाडेढ़सेदोघंटेजायाहोताहै।एकपरिवारकेदोसदस्यकरीब25-25लीटरपानीलातेहैं।

ग्रामीणोंनेकहाकिजिंदगीबनगईनरक

गांवकीपूर्ववार्डसदस्यधनुउरांवऔरचंद्रावतीदेवीकाकहनाहैकिजिंदगीनरकबनगईहै।विवशतामेंप्यासबुझानेकेलिएठोरीजानापड़ताहै।बरसातमेंपंडईमेंदोसेढाईफीटपानीहोनेसेउसेपारकरनामुश्किलहोताहै।तबइसकेपानीकाहीउपयोगपीनेमेंकरनापड़ताहै,जोस्वास्थ्यकीदृष्टिसेनुकसानदायकहै।सीमावर्तीदोनोंगांवोंमेंजबकभीकिसीविवादकेकारणआवाजाहीबंदहोतीहै,तबभीनदीकापानीहीकामआताहै।

कामनहींकरतेदोसोलरवाटरपंप

गांवमेंदोजगहसोलरआधारितवाटरपंपकीव्यवस्थाकीगईथी।करीबडेढ़सालपहलेप्रतिसोलरवाटरपंपपरपीएचईडीने6.29लाखरुपयेखर्चकिए।एकतोकुछहीदिनबादखराबहोगयाऔरदूसरेसेलालपानीआताहै।विभागनेअबतकउसेबनवानेकाकोईप्रयासनहींकिया।गांवमेंहैंडपंपवकुआंखोदनेकाप्रयासकुछग्रामीणोंनेकिया,लेकिनपहाड़ीक्षेत्रहोनेकेचलतेसफलतानहींमिली।

स्थायीसमाधानकेलिएहोगीपहल

पीएचईडीकेकार्यपालकअभियंताराजेशप्रसादकहतेहैंकिपानीकास्तरकाफीनीचेचलागयाहै।विभागसेआदेशलियाजारहाहै,ताकिस्थायीसमाधानकियाजासके।विधायकभागीरथीदेवीकहतीहैंकिआवंटनकेअभावमेंपानीकीसप्लाईरुकीहै।इसमामलेकोविधानसभामेंउठायाजाएगा।

'भिखनाठोरीमेंपानीकीसमस्याखत्मकरनेकीकोशिशहोगी।विभागकेअधिकारियोंसेबातकरइसकास्थायीसमाधाननिकालाजाएगा।'

-सतीशचंद्रदुबे

सांसद,वाल्मीकिनगर