एक घंटा इंतजार और दो किमी नापने पर नसीब होता है पानी

फोटो:02बेरमो10में-नावाडीहप्रखंडकेऊपरघाटस्थितपोखरियापंचायतकेबोखेंतावतिताहीमेंनहींजलापूर्तिकीकोईव्यवस्था

-एकड़ाडीसेबुझतीदोआदिवासीटोलाकीप्यास,महिलाओंकेलिएबड़ादंशसंवादसहयोगी,सुरही(बेरमो):

नावाडीहप्रखंडकेऊपरघाटस्थितपोखरियापंचायतकेदोआदिवासीबहुलटोलाकेलोगोंकीप्यासएकडाड़ी(कच्चाकुआं)सेबुझतीहै।वहदोनोंटोलाहैंबोखेंताएवंतिताही,जहांकीआबादीक्रमश:लगभग150व200है।दोनोंटोलाकेबीचमात्रएकहीडाड़ीरहनेकीवजहसेपानीभरनेकोप्रतिदिनमहिलाओंकीभीड़जुटतीहै।उसदौरानमहिलाओंकोअपनीबारीकेइंतजारघंटोंकरनापड़ताहै।बारीआनेपरदेगचीमेंपानीभरकरलगभगएककिमीपैदलचलकरघरपहुंचनेकीमशक्कतउठानीपड़तीहै।

तिताहीटोलाकीलीलामणिदेवीनेबतायाकियहांकेलोगोंकोहरमौसममेंपानीकीसमस्यासेदो-चारहोनापड़ताहै।उनकेटोलामेंसरकारकीओरसेएकभीचापाकलकीव्यवस्थानहींकराएजानेसेपानीकीसमस्याबनीहुईहै।हीरामुनीमुर्मूनेकहाकिउनकेटोलामेंएकभीकुआंनहींहै।पार्वतीदेवीनेकहाकिजलापूर्तिकीव्यवस्थाकरानेकेलिएकईबारस्थानीयमुखियाकोबोली,लेकिनपहलनहींकीगई।रेशमीदेवीनेबतायाकिनावाडीहप्रखंडमुख्यालययहांसेलगभग40किलोमीटरदूरहै।प्रखंडकार्यालयकेकर्मीयहांकीसुधलेनेनहींआते।बोखेंतावतिताहीटोलाकासंपर्कपथअत्यंतजर्जरहोगयाहै।बारिशहोनेपरकीचड़सेसनगयाहै,जिसकेकारणचलनादूभरहोगयाहै।सांसदप्रतिनिधिदीपूअग्रवालनेकहाकिगिरिडीहकेसांसदचंद्रप्रकाशचौधरीएवंनावाडीहकेबीडीओसंजयशांडिल्यकोयहांकीसमस्याओंसेअवगतकराकरसमाधानकीदिशामेंपहलकराएंगे।