एसडीएम साहब! घरों में कैद हो गए हैं लोग, बाहर कैसे निकलें

जागरणसंवाददाता,अंबाला

एसडीएमसाहब,दोदिनसेबारिशरुकीहैऔरइससेपहलेभीकईदिनोंसेपानीजमाहै,लोगघरोंमेंकैदहैं।आपहीदेखलीजिए,दुपहियायावाहनकेबिनालोगअपनेघरोंसेकैसेबाहरनिकलेंगे।हरबारिशमेंपानीइकट्ठातोजाताहै,लेकिनबिनापंपकेकभीनहींनिकलता।स्थायीसमाधानआजतकनहींनिकालागया।आपइसपरगौरकरें,जिससेकिराहतमिलसके।

उक्तबातएसडीएमकुलदीपनगरअंबालाछावनीकेलोगोंनेअपनीपीड़ासुनातेहुएकही।एसडीएमनेलोगोंकादर्दसमझाऔरमौकेपरबुलायेगएसिचाईविभागकेएक्सईएनप्रवीणकुमारपूछातोउन्होंनेबतायाकिरेलपटरीकिनारेकच्चीड्रेनखोदकरयहपानीनिकालाजासकताहै।हालांकिअस्थायीरूपसेपंपलगाकरपानीनिकासीशुरूकीहै।

बतादेंकिकुलदीपनगरऔरमच्छौंडामेंबरसातकापानीअपनेआपनहींनिकलपाता।कुलदीपनगरकेपासलोगोंनेकालोनीकाटनेकेलिएभरतडालदीथी,जिसकाडीटीपीनेमामलातोदर्जकराया,लेकिनपुलिसकीतफ्तीशअधरमेंलटकगई।इसीबीचबरसातमेंएकत्रितहोनेवालापानीजोखालीप्लाटोंमेंजाताथा,वहकालोनीमेंभरगया।लोगोंनेस्वास्थ्यमंत्रीअनिलविजकेसामनेदुखड़ारोया,तोअधिकारीहरकतमेंआए।कुलदीपनगरपहुंचकरपंपलगानिकासीशुरूकरवाईहै,जबकिबुधवारकोकच्चीड्रेनखोदकरस्थायीहलनिकालनेकीकोशिशकीजाएगी।