गबन के आरोप लगने के बाद भी लिपिक पर नहीं हुई कार्रवाई, डीडीसी ने जांच के दौरान पाया था दोषी

मुंगेर।क्षेत्रीयशिक्षाउपनिदेशककापदरिक्तरहतेछहमाहतकवाहनकाकिरायाअवैधतरीकेसेनिकालनेकेमामलेकेआरोपीदोलिपिकोंपरअबतककोईकार्रवाईनहींकीजासकीहै।दोनोंकर्मीमेंसेएकअनिलकुमार¨सहवर्तमानसमयमेंजिलाशिक्षकएवंप्रशिक्षकमहाविद्यालयपूरबसरायतोदूसरापंकजयादवशिक्षाविभागकेलेखाएवंयोजनाशाखामेंकार्यरतहै।

शंकरपुरनिवासीगौतमकुमारनेइसमामलेकोलेकरडीएमकेयहांपरिवाददायरकियाथा,किआरडीडीईउषाकुमारीकीसेवानिवृतिकेबादतथाडॉ.ब्रजकिशोर¨सहकेआरडीडीईकेपदपरयोगदानसेपहले1मार्च2016सेलेकर15सितंबर2016तकआरडीडीईकापदरिक्तथा।उससमयदोनोंलिपिकआरडीडीईकार्यालयमेंप्रतिनियोजनपरथे।उसदौरानदोनोंनेआरडीडीईकेवाहनकेकिराएकेनामपरराशिकीअवैधनिकासीकीगई।इसपरतत्कालीनडीएमनेइसमामलेकीजांचकाजिम्माडीडीसीकोसौंपदियाथा।डीडीसीनेजबइसमामलेकीजांचकी,तोइसक्रममेंआरडीडीईकार्यालयद्वाराउपलब्धकराएगएअभिलेखकेअनुसारस्पष्टहुआकीतत्कालीनआरडीडीईउषाकुमारी31मार्च2016कोसेवानिवृतहोगईथी।इसकेबाद16सितंबर2016कोइसकाप्रभारखगड़ियाकेडीईओडॉ.ब्रजकिशोर¨सहकोसौंपागया।इसबीचयहपदरिक्तरहा।लेकिनदोनोंलिपिकोंनेइसदौरानवाहनकेकिराएमदकीराशिकीअवैधरुपसेनिकासीकिया।जिसकेभुगतानआदेशपरडॉ.ब्रजकिशोर¨सहकाहस्ताक्षरहै।डीडीसीनेजांचप्रतिवेदन28अप्रैल2018कोहीडीएमकोअपनाजांचप्रतिवेदनसौंपदिया।लेकिनअबतकइसमामलेपरकोईकार्रवाईनहींकीगईहै।