घड़ले से काटे जा रहे पेड़, सो रहे हैं वन विभाग के अधिकारी

संवादसहयोगी,गढ़शंकर:

एकतरफसरकारेंग्लोबलवार्मिंगकोरोकनेकेलिएपौधरोपणकेलिएलोगोंसेअपीलकररहीहै।वहींदूसरीतरफमाहिलपुर-गढ़शंकरसड़ककिनारेवनविभागद्वारालगाएगएपेड़ोंकोनष्टकियाजारहाहै,लेकिनविभागकेअधिकारीवकर्मचारीकुम्भकर्णीनिद्रामेंलीनहैउन्हेंयहसबनजरनहीआरहाहोगायहसंभवनहीं,लेकिनयहसबकर्मचारियोंकीआंखोंकेसामनेहोरहाहै।

माहिलपुर-सैलाखुर्दकेपाससर्विसस्टेशनकेसामनेकरीब10वर्षपुरानेजामुनकोपेड़कोजेसीबीमशीनकीसहायतासेगिरादियागयाहैताकिवहउनकेकाममेंआड़ेनआयेऔरपेड़कुदरतीतौरसेनष्टहुआदिखादियाजाए।इससंबंधमेंगढ़शंकरवनरेंजअधिकारीरामपालसेबातकीगईतोउन्होंनेहमेशाकीतरहगोलमोलजवाबदेतेहुएकहाकिवहकिसीकर्मचारीकोभेजकरपताकरतेहैं।बतादेंकिइससड़ककिनारेदर्जनोंजगहोंपरनिर्माणकार्यचलरहेहैंजिनकेसामनेआनेवालेपेडोंकोधीरे-धीरेनष्टकियाजारहाहैलेकिनवनविभागइनकेविरुद्धकारवाईकरनेकीबजाएनजरअंदाजकररहेहैंजिसकेचलतेपेड़ोंकाजीवनखतरेमेंपड़तानजरआरहाहै।