गली में भरा है गंदा पानी, आखिर कैसे निकलें

जागरणसंवाददाता,बांदा:शहरमेंसमस्याओंकाअंबारलगाहै।लेकिनकोईसुननेवालानहींहै।किसीमोहल्लेमेंजलभरावतोकहींगंदगीसेलोगपरेशानहैं।तहसीलदिवससेलेकरजनप्रतिनिधियोंसेगुहारलगाचुके,लेकिनकोईसुननेवालानहींहै।कुछस्थानोंकीस्थितितोयहहैकिभलेहीवहशहरीहोंलेकिनउन्हेंगांवजैसीसुविधाएंमिलरहीहैं।बिजली,पानी,सड़कजैसीमूलभूतसुविधाओंकाअभावहै।शहरकेअधिकांशमोहल्लोंमेंविद्युतविभागद्वाराअभीतकसौफीसदऊर्जीकृतनहींकियागयाहै।जिनमेंसबसेज्यादापरिसीमनकेबादनगरपालिकामेंसमाहितमोहल्लेहैं।

दीपकबागकालोनीवीआइपीमोहल्लोंमेंशुमारहै।ज्यादातरलोगनौकरीपेशावालेरहतेहैं।लेकिनयहांकीगलियोंमेंगंदापानीभरारहताहै।गलीमेंनालियांतोबनीहैं।लेकिनजलनिकासीकीकोईव्यवस्थानहींहै।यहीनहींकालूकुआंमुख्यसड़कनिर्माणकेदौरानबनाईगईनालीमानकविहीनहोनेकेकारणअन्यमोहल्लोंकापानीभीइसीगलीमेंभरजाताहै।इसतेजधूपकेबावजूदगलीकापानीनहींसूखताहै।तहसीलदिवसऔरजनप्रतिनिधियोंकोअवगतकराया,लेकिनकोईसुननेवालानहींहै।-भवानीदीनसाहू-इसमोहल्लेकामैंनेभ्रमणकियाहै।वाकईसमस्याबड़ीहै।मुख्यसड़ककीनालीकाफीऊंचीहै।जबकियहगलीकरीबदोफिटगहरीहै।पहलेपीछेखालीप्लाटमेंपानीजाताथा।लेकिनअबउसेबंदकरदियाहै।हमलोगोंनेजलनिकासीकेलिएकुछजमीनकीमांगकीथी।ताकिपांचफिटकानालाबनवासकें।इसमोहल्लेमेंकोईसरकारीजमीननहींहै।अन्यथासमाधानअबतकहोजाता।बावजूदइसकेप्रयासजारीहैं।-मोहनसाहू,नगरपालिकाअध्यक्षगुहार-2

कर्बलारोडमोहल्लेमेंपीनेकेपानीकासंकटअधिकहै।एकभीहैंडपंपनहींहै।सिर्फलोगपानीसप्लाईकेभरोसेरहतेहैं।ऐसेमेंयदिबिजलीनहींआतीहैयाफिरकोईपरेशानीहैतोमोहल्लेकीसमस्याकोदेखतेहुएतत्कालटैंकरआदिकीव्यवस्थाकीजानीचाहिए।क्योंकिमोहल्लेकेलोगमांगकरतेरहतेहैं,लेकिनकोईसमाधाननहींहोताहै।हैंडपंपबोरसफलनहोनेकेकारणलोगोंकेघरोंमेंव्यवस्थाभीनहींहैं।-उमेशकोटार्य-बिजलीकीपर्याप्तआपूर्तिमिलनेपरपानीकीदिक्कतनहींहोतीहै।इसमोहल्लेमेंबंबेश्वरसेजलापूर्तिसुनिश्चितहोतीहै।यदिकभीपानीनहींआयातोमांगआतेहीटैंकरकीव्यवस्थासुनिश्चितकीजातीहै।पिछलेदिनोंआईदिक्कतमेंटैंकरभेजेगएथे।-रतनलाल,एक्सईएन