हस्तशिल्प कला को स्वरोजगार का माध्यम बनाएं युवा : संदीप

जागरणसंवाददाता,ऊना:एमसीपार्ककेपासजिलाभाषाएवंसंस्कृतिविभागकीतरफसेआयोजितपांचदिवसीयहस्तशिल्पकलामेलासंपन्नहोगया।डीसीसंदीपकुमारनेमुख्यअतिथिरहे।समारोहकीअध्यक्षताजिलाभाषाअधिकारीप्रोमिलागुलेरियानेकी।

संदीपकुमारनेकहाकिसमयकेसाथकईहस्तशिल्पकलाएंलुप्तहोतीजारहीहैं।भाषाएवंसंस्कृतिविभागद्वाराकलाएवंशिल्पमेलेकेआयोजनसेआजकीयुवापीढ़ीकोप्राचीनदस्तकलाओंएवंसंस्कृतिसेरूबरूहोनेकाएकमंचप्रदानकियागयाहै।इससेयुवाओंकोइनहस्तशिल्पकलाओंकोस्वरोजगारकेरूपमेंअपनानेकीप्रेरणाभीमिलरहीहै।

इसमौकेपरसांस्कृतिककार्यक्रमोंमेंडीएमएक्सडांसग्रुपहटलीकेअमितवपार्टीनेदेशभक्तिगीत,लोकसंपर्कविभागकेकलाकारोंद्वारास्वच्छतापरलघुनाटिका'स्वच्छभारतबनानाहैस्वच्छताकोअपनानाहै'प्रस्तुतकरकेस्वच्छताकासंदेशदिया।ऊनाकेजलग्रांकेलोकगायकसिकंदरनेबेटियोंकासमाजमेंमहत्वबतातेहुए'नायहकहरगुजारोलोको'गाकरबेहतरीनप्रस्तुतिदी।ऊनाकेयुवागायकजरनैलरायनेगाना'मिट्टीदेयाबाबेयाबेतेरेदुखानेमारमुमकायातेरासोनाजोगी'पेशकरकेसमांबांधा।

इसकेअतिरिक्तवंदना,धर्मपाल,परमजीत,यशपाल,ब्रह्मदासमुसाफिरकेअलावाआंगनबाड़ीकार्यकर्ताओंनेगिद्दाप्रस्तुतकरकेसबकामनोरंजनकिया।मेलेमेंलोकसंस्कृतिपरआधारितकार्यक्रमभीकरवाएगए।कार्यकममेंविभिन्नमहाविद्यालयोंसेआएप्रो.कुलदीप,अनीताकौंडल,खेलविभागसेयुवासंयोजकसुमनलता,ओमप्रकाशवआइटीआइऊनाकेअध्यापकवविद्यार्थीशामिलहुए।