हत्या में तीन को आजीवन कारावास

जागरणसंवाददाता,कानपुरदेहात:बच्चोंकेखेलनेकेदौरानउनकेपरिजनोंकेबीचहुएविवादकेबादकीगयीहत्याकेमामलेमेंदोषसिद्धहोनेपरन्यायालयनेतीनअभियुक्तोंकोआजीवनकारावासकीसजासुनाई।आरोपितोंपर20-20हजाररुपयेकाअर्थदंडभीलगाया।अर्थदंडनभरनेपर6माहकाकठोरकारावासकाटनापड़ेगा।

जुलाई2011मेंबच्चोंकेविवादकेबादझींझककेगांधीनगरनिवासीविजयकुमारदीक्षितऊर्फबब्लूदीक्षितनेबिलखगांवनिवासीसंजूदुबेपुत्ररामलखनवसुषमादेवीपत्नीसंजूदुबेकेसाथमिलकर16जुलाई2011कोसुनीलगुप्ताउर्फकल्लूपुत्रशिवशंकरकोगोलीमारदीथी।सुनीलकीउपचारकेदौरानबादमेंमौतहोगयीथी।मृतककेपिताशिवशंकरनेमंगलपुरथानेमेंतीनोंकेखिलाफहत्याकामुकदमापंजीकृतकरायाथा।जिसकेबादपुलिसनेविजयकुमारदीक्षितकोअवैधअसलहेकेसाथगिरफ्तारकरलियाथा।मामलेकीसुनवाईअपरसत्रन्यायाधीशपंचमबाबूप्रसादकीकोर्टमेंचलरहीथी।शासकीयअधिवक्ताप्रदीपपांडेयनेबतायाकिमामलेमेंमृतककापुत्रगवाहथा।जिसकीगवाहीवमामलेकीसुनवाईकरतेहुएएडीजेपंचमबाबूप्रसादनेआरोपसिद्धहोनेपरविजयकुमारदीक्षित,संजूदुबेवसुषमादुबेकोदोषीकरारदेतेहुएआजीवनकारावासकेसाथही20-20हजाररुपयेकेअर्थदंडकीसजासुनाईहै।इसकेअलावाविजयकुमारपरचलरहेशस्त्रअधिनियमकेतहत3वर्षकाकठोरकारावासवतीनहजाररुपयेअर्थदंडलगायागयाहै।