इन केंद्रों पर कैसे संभव जच्चा-बच्चा की देखभाल

सिद्धार्थनगर:खेसरहाविकासखंडमेंस्थापितजच्चाबच्चाकेंद्रोंकीस्थितिबदतरहोतीजारहीहै।विभागकीअनदेखीसेकईसेंटरतोऐसेहैंजोअंतिमसांसगिनरहेहैं।गर्भवतीमहिलाओंवप्रसवउपरांतबच्चोंकीसमुचितदेखभालकेलिएसरकारद्वारालागूइसव्यवस्थाकोअबग्रामीणछलावामानरहेहैं।

ब्लाककेनासिरगंजग्रामपंचायतमेंएएनएमसेंटरहाथीदांतबनाहुआहै।इसकीस्थापनावर्ष2009-010मेंहुईथी।छहलाखनब्बेहजारकीलागतसेयहदोवर्षमेंबनकरतैयारहुआथा।तबसेलेकरआजतकइसेनतोविभागकोसुपुर्दकियागया,औरनस्वास्थ्यविभागहीइसपरकोईध्यानदेरहा।नतीजतनइसकेदरवाजेवखिड़कियांटूटकरगायबहोचुके।तीनकमरेवएकबरामदेवालेइसभवनकीफर्शभीटूटचुकीहै।बनेशौचालयपूरीतरहध्वस्तहोचुके।जबकिइसपरऔसानगाड़ा,ढोलगाड़ा,दनियापार,कुनौना,भथौराआदिगांवोंकीजिम्मेदारीहै।प्रसवकेदौरानगर्भवतीमहिलाओंकोब्लाकमुख्यालयपरलेजानेकेअलावाकोईचारानहींहोता।

वहीसेंटरविभागकोहैंडओवरनहींहुएहैजिनमेंठेकेदारनेकमियांकीहै।इससेंटरकेविषयमेंहमेंमालूमनहींथापताकरकेउसकीस्थितिकेविषयमेंकुछकहपाऊंगा।

एसकेभारती,अधीक्षकसीएचसी,खेसरहा

लोकसभाचुनावऔरक्रिकेटसेसंबंधितअपडेटपानेकेलिएडाउनलोडकरेंजागरणएप