जानिए अल्मोड़ा सीट का इतिहास, यहां हमेशा रहा है कांटे का मुकाबला, इस बार भी है कड़ी टक्कर

नईदिल्ली(जेएनएन)।उत्तराखंडकीपांचलोकसभासीटोंमेंसेएकअल्मोड़ामेंपहलेचरणमेंहोनेवालेमतदानकेलिएलगभगसभीपार्टियोंनेअपनेप्रत्याशियोंकेनामकेघोषणाकरदीहै।भारतीयजनतापार्टीऔरकांग्रेसकेउम्मीदवारोंसमेतसातप्रत्याशियोंनेनामांकनदाखिलकरदियाहै।नामांकनभरनेकेसाथहीदोनोंदलशक्तिप्रदर्शनकररहेहैं।इतनाहीनहींदोनोंहीदलोंकेउम्मीदवारखुदकीजीतकादावाकररहेहैं।इससीटपरजनताकिसकेहकमेंफैसलादेगी,येतोवक्तहीबताएगा,लेकिनउससेपहलेहमआपकोयहांकेचुनावीगणितकेबारेमेंबतातेहैं।

कांग्रेसऔरभारतीयजनतापार्टीकेबीचरहीहैजंग

इससीटकेइतिहासपरअगरनजरडालीजाएतोपताचलताहैकिटिहरीगढ़वालकीतरहअल्मोड़ासीटभीकांग्रेसऔरभारतीयजनतापार्टीकेहाथोंमेंहीरहीहै।शुरुआतसेलेकर2014केचुनावतककांग्रेसऔरबीजेपीकेबीचजोरदारटक्करदेखनेकोमिलीहै।सिर्फएकबारयहांसेअन्यपार्टीनेजीतहासिलकीहै।

कईसालअल्मोड़ाकीजमींपरकोईपार्टीनहींरखपाईकदम

देशमेंपहलीबार1952मेंहुएलोकसभाचुनावमेंअल्मोड़ासीटदोभागोंमेंविभाजितथी।पहलीअल्मोड़ाजिला(नॉर्थईस्ट)औरदूसरीनैनीतालजिलासहअल्मोड़ाजिला(साउथवेस्ट)सहबरेलीजिला।दोनोंहीसीटोंसेकांग्रेसप्रत्याशीनेजीतदर्जकीथी।अल्मोड़ाजिला(नॉर्थईस्ट)सेदेवीदत्तनेस्वतंत्रपार्टीकेउम्मीदवारपुर्णानंदकोहरायाथाऔरअल्मोड़ाजिला(साउथवेस्ट)सेसीडीपांडेनेस्वत्रंतपार्टीकेउम्मीदवारदानसिंहकोमातदी।1957मेंयहांस्वतंत्ररूपसेपहलीबारचुनावहुए,जिसमेंफिरसेकांग्रेसनेहीजीतहासिलकी।

कईसालोंतककांग्रेसकारहादबदबा

इसकेबादलगातारकईसालोंतकइससीटपरसिर्फकांग्रेसनेराजकिया।1962,1967,1971तकयहांकोईभीपार्टीअपनेजड़ेंनहींजमापाई।1957मेंकांग्रेसउम्मीदवारहरगोविंदयहांसेसांसदचुनेगए।उन्होंनेप्रजासोशलिस्टपार्टीकेउम्मीदवारकोकरीब9हजारवोटोंकेअंतरसेहराया।इसकेबाद1962केचुनावमेंकांग्रेसकेएकनएउम्मीदवारजंगबहादुरसिंहयहांसेजीते।1967मेंभीजंगबहादुरसिंहनेहीजीतकापरचमलहराया।हालांकि1971मेंकांग्रेसनेफिरसेएकनएउम्मीदवारकोटिकटदिया।कांग्रेसकेटिकटपरचुनावमैदानमेंउतरेनरेंद्रसिंहबिस्टयहांसेचुनावलड़ेऔरजीतहासिलकी।

नईपार्टीनेकांग्रेसकोदियाझटका

1977केचुनावमेंकांग्रेसनेपहलीबारयहांसेहारकासामनाकियाऔरभारतीयलोकदलकोयहांसेजीतमिली।कांग्रेसइसचुनावमेंनासिर्फहारी,बल्किभारीवोटोंकेअंतरसेहारी।बीएलडीकेउम्मीदवारकेतौरपरखड़ेहुएबहुचर्चितनेतामुरलीमनोहरजोशीनेकांग्रेसउम्मीदवारनरेंद्रसिंहबिष्टकोहराया।जोशीनेलोगोंकाप्यारपातेहुए153409वोटपाए,वहींनरेंद्रसिंहसिर्फ75933वोटहीपासके।

हरीशरावतनेलगातारतीनचुनावजीते

1980केआमचुनावमेंकांग्रेसनेफिरसेयहांजनताकादिलजीताऔरलगातारतीनलोकसभाचुनावमेंअल्मोड़ापरराजकिया।1980मेंकांग्रेसनेएकनएउम्मीदवारहरीशचंद्रसिंहरावतकोचुनावलड़वाया।हरीशरावतनेजनतापार्टीकेउम्मीदवारमुरलीमनोहरजोशीकोकरारीमातदेतेहुएयहांसेजीतदर्जकराई।इसकेबाद1984मेंहरीशरावतकेसामनेफिरसेमुरलीमनोहरजोशीखड़ेहुए,लेकिनइसबारवहभारतीयजनतापार्टीकेटिकटपरचुनावलड़रहेथे।लेकिनहरीशनेजोशीकोफिरसेचुनावमैदानसेबाहरकरदिया।फिर1989मेंहुएचुनावमेंहरीशरावतनेएकनिर्दलीयउम्मीदवारकाशीसिंहकोशिकस्तदी।इसतरहहरीशरावतलगातारतीनबारकांग्रेसकेखातेमेंजीतलिखवातेचलेगएऔरसांसदबनतेरहे।

कांग्रेसकेलिए‘काला’साबितहुआयेदौर

1991सेलेकर2004तककेचुनावपरिणामकांग्रेसकेलिएबहुतबुरेसाबितहुए।येवोदौरथा,जबअल्मोड़ाकीराजनीतिमेंएकनईपार्टीनेजीतकाकदमरखाऔरवोथीभारतीयजनतापार्टी।1991सेलेकर2004तकबीजेपीलगातारयहांसेजीतीऔरकांग्रेसनेलगातारहारकामुंहदेखा।कांग्रेसकेकद्दावरनेतामानेजानेवालेहरीशसिंहरावतभीयहांकुछकमालनहींकरपाएऔरबीजेपीकेसामनेघुटनेटेकगए।1991मेंबीजेपीनेजीवनकोअपनेटिकटपरचुनावमैदानमेंउताराऔरजीवननेयहांसेजीतकरबीजेपीकोएकनयाजीवनदिया।इसकेबाद1996,1998,1999और2004मेंबचीसिंहरावतनेयहांसेजीतकरबीजेपीकीजड़ेंमजबूतकीं।

कांग्रेसनेफिरकीवापसीलेकिनबीजेपीपड़ीभारी

2009मेंकांग्रेसकेउम्मीदवारप्रदीपटम्टानेचुनावजीतकरबीजेपीकोझटकादिया।इसचुनावमेंप्रदीपटम्टानेबीजेपीप्रत्याशीअजयटम्टाकोहराया।कांग्रेसकेप्रदीपकोजहां200310वोटमिले,वहींबीजेपीप्रत्याशीअजयटम्टाको192987वोटहीमिलपाए।2014में16वींलोकसभाकेलिएहुएचुनावमेंमुकाबलाफिरसेकांग्रेसकेप्रदीपटम्टाऔरबीजेपीकेअजयटम्टाकेबीचहुआ।लेकिनइसबारबीजेपीप्रत्याशीअजयटम्टानेबाजीमारलीऔरपार्टीकोजीतदिलादी।अब2019केचुनावमेंबीजेपीकेअजयटम्टाऔरकांग्रेसकेप्रदीपटम्टाफिरआमनेसामनेहैं।इसबारकौनयहांसेजीतेगायेतोवक्तहीबताएगा।

अल्मोड़ाकेबारेमेंखासबातें

चीनऔरनेपालकेसाथ-साथगढ़वालसीमासेसटेचारजिलोंमेंफैलीअल्मोड़ा-पिथौरागढ़संसदीयसीटअपनेअलगमिजाजकेलिएजानीजातीहै।यहांकाली,गोरी,पूर्वीवपश्चिमीरामगंगा,सरयू,कोसीनदियोंवालेक्षेत्रमेंहिमालयकाभू-भागभीहै।कुमाऊंहिमालयश्रृंखलाकीएकपहाड़ीकेकिनारेपरबसायहइलाकाबेहदमनमोहकहै।इसक्षेत्रकोराजाबालोकल्याणचंदने1568मेंबसायाथा।महाभारतकेसमयसेहीयहांकीपहाड़ियोंऔरआसपासकेक्षेत्रोंमेंमानवबस्तियोंजिक्रमिलताहै।यहक्षेत्रचंदवंशीयराजाओंकीराजधानीथा।इसधार्मिकनगरीमेंबेहदप्राचीनऔरमहत्वपूर्णमंदिरहैं।इनमेंगैराडगोलूदेवता,नंदादेवीमंदिर,बानडीदेवीमंदिर,कटारमलसूर्यमंदिर,गणनाथमंदिर,बिनसरमहादेवमंदिर,जागेश्वेरधामऔरकसारदेवीमंदिरकाप्रमुखस्थानहै।