जाति आधारित आरक्षण फिलहाल देश की जरूरत: सोनिया गांधी

नईदिल्लीकेंद्रसरकारनेसाफकरदियाहैकिउसकाजातिकेआधारपरदिएजारहेआरक्षणकोखत्मकरआर्थिकआधारपरआरक्षणदेनेकाविचारनहींहै।यूपीएअध्यक्षसोनियागांधीनेभीकहाहैकिजातिआधारितआरक्षणदेशमेंजरूरीहैऔरदेशमेंइसनीतिपरआगेबढ़नेकीजरूरतहै।मंगलवारकोकांग्रेसकेवरिष्ठनेताजनार्दनद्विवेदीनेजातिआधारितआरक्षणबंदकरनेकीवकालतकीथी।द्विवेदीनेकांग्रेसउपाध्यक्षराहुलगांधीसेअनुरोधकियाथाकिवहआर्थिकरूपसेकमजोरवर्गकेलिएआरक्षणशुरूकरें।उन्होंनेइसकेतहतसभीसमुदायोंकोलानेकीमांगकीथी।इसकेबादबुधवारकोसरकारकीओरसेजारीबयानमेंकहागयाकिउसकाआर्थिकआधारपरआरक्षणकाविचारनहींहै।सूत्रोंकाकहनाहैकिसोनियागांधीनेइसबयानपरकड़ीप्रतिक्रियादीहैऔरकहाहैकिअभीदेशमेंजातिआधारितआरक्षणजरूरीहै।कांग्रेसकेवरिष्ठनेताजनार्दनद्विवेदीकीमांगपरसहयोगीपार्टियोंकेविरोधकेबादकेंद्रसरकारनेबयानजारीकरकहाकिवहजातिआधारितआरक्षणकोखत्मकरआर्थिकआधारपरआरक्षणकोलेकरकिसीतरहकाविचारनहींकररहीहै।केंद्रसरकारनेकहाकिइसतरहकीकिसीभीसिफारिशपरविचारनहींकियाजारहाहै।कांग्रेसनेताजनार्दनद्विवेदीकेजातिआधारितआरक्षणकेविरोधकोलेकरदिएगएबयानपरउनकीआलोचनाकरतेहुएबीएसपीअध्यक्षमायावतीनेइसमुद्देपरकांग्रेसकोरुखस्पष्टकरनेकोकहाथा।मायावतीनेसंसदपरिसरमेंसंवाददाताओंसेकहाकिएकवरिष्ठकांग्रेसनेतानेआरक्षणपरबयानदियाहै,यहकिसीव्यक्तिविशेषकीरायनहींहोसकती,बल्किपार्टीकारुखहै।उन्होंनेजनार्दनद्विवेदीकेबयानकीकड़ीनिंदाकी।जनार्दनद्विवेदीनेमंगलवारकोकहाथा,इसे(जातिआधारितआरक्षण)बंदहोनाचाहिएथा।ऐसाअबतकइसलिएनहींहोसका,क्योंकिनिहितस्वार्थीतत्वइसप्रक्रियामेंआगए।क्यादलितोंऔरपिछड़ीजातियोंमेंअसलजरूरतमंदकोआरक्षणकालाभमिलताहै?सामाजिकन्यायऔरजातिवादकेबीचअंतरहै।'द्विवेदीकेबयानकीआलोचनाकरतेहुएएलजेपीप्रमुखरामविलासपासवाननेकहाकिकांग्रेसनेताकीटिप्पणीसंविधानकीभावनाकेखिलाफहै।उन्होंनेसंसदपरिसरमेंसंवाददाताओंसेकहा,'इसतरहकेबयानसेकेवलविपक्षहीमजबूतहोगा।हममांगकरतेहैंकिकांग्रेसपार्टीकोइसबयानकीनिन्दाकरनीचाहिए,ताकिजनतामेंगलतसंदेशनजाए।'