जिले में बेटियों को बचाने का साकार हुआ सपना, सितंबर में 925 पहुंचा ग्राफ

जागरणसंवाददाता,अंबालाशहर:जिलेमेंबेटीबचाओबेटीपढ़ाओकासपनासाकारहोनेलगाहै।स्वास्थ्यविभागकेनियमितप्रयाससेलिगअनुपातमेंबेटियोंकाग्राफबढ़ताजारहाहै।जिलेमेंवर्ष2014मेंलिगानुपातमें865बेटियांथी,जोवर्तमानमेंवर्ष2020मेंसितंबरतक925तकपहुंचगयाहै।

मालूमहोकिअंबालामेंस्वास्थ्यविभागलिगजांचकरनेवालोंकीनियमितनिगरानीकरतीहै।वहींलिगजांचकरनेपरसीधेरंगेहाथोदबोचरहीहै।साथहीप्राथमिकस्वास्थ्यकेन्द्रऔरसामुदायिकस्वास्थ्यकेन्द्रपरलोगोंकोबेटीबचाओऔरबेटीपढ़ाओकेप्रतिजागरुककियाजाताहै।इसमेंलोगोंकोसमझायाजाताहैकिबेटाऔरबेटीमेंकोईफर्कनहींहै।बेटीभीदेशकानामरोशनकरनेमेंअहमभूमिकानिभारहीहै।

इसलिएस्वास्थ्यविभागकेकठिनप्रयाससेलिगानुपातमेंबेटियोंकाग्राफबढ़ताजारहाहै।ट्विनसिटीमेंवर्ष2014मेंलिगअनुपात865पहुंचगयाथा।लेकिनअबहरसाललिगअनुपातमेंबेटियोंकाग्राफबढ़ाहै।वर्ष2020केसितंबरमेंलिगानुपात925तकपहुंचगयाहै।विभागकीमानेंतोजिलेमेंलोगोंकीबेटियोंकेप्रतिसोचमेंभीबदलावआयाहै।------------------------------

जिलेकालिगानुपात

वर्ष2020सितंबरतक925------------

स्वास्थ्यविभागलिगजांचकरनेवालोंपरनियमितछापेमारीकरताहै।वहींसीएचसीवपीएचसीपरभीलोगोंकोबेटीबचाओबेटीपढ़ाओकेप्रतिजागरूककियाजाताहै।विभागकेप्रयाससेहीलिंगानुपातमेंसुधारहुआहै।

डा.बलविदरकौर,डिप्टीसिविलसर्जन,स्वास्थ्यविभाग