जल की बूंद बूंद है कीमती..

होशियारसिंह,कनीना:उप-मंडलकेगांवमोड़ीकेखेतोंमेंस्थितछहघरोंकीएकढाणीजलसंरक्षणकीमिसालबनीहुईहै।इनघरोंकीछतोंसेबरसातकापानीपाइपोंकेजरियेजमीनमेंबनाएगएहोदमेंसंरक्षितकरलियाजाताहै।इसकाइस्तेमालफसल,फल,सब्जीउगानेकेलिएकियाजारहाहै।इसेकहसकतेहैंआमकेआमऔरगुठलियोंकेदाम।

इसढाणीमेंछहघरबनाएगएहैं,जिनमें24लोगरहरहेहैं।सभीछहघरोंकीछतोंकोपाइपोंसेजोड़ाहुआहैऔरजमीनपरबनाएगएहोदतकयहपाइपलाइनलाईगईहै।होदकीक्षमताकरीब2000लीटरहै।जबबरसातहोतीतोसभीघरोंकापानीपाइपोंएवंनालियोंसेहोताहुआकुंडमेंजमाहोजाताहै।ढाणीमेंरहनेवालेकिसानबरसातकेपानीकोदसवर्षपहलेतकभूमिगतजलरिचार्जमेंकामलेरहेथे।लेकिनइसकेबादइसपानीकाउपयोगसब्जियांवफसलउत्पादनकरनेकेलिएकियाजानेलगा।कुंडकेपानीनिकलानेकेलिएसोलरआधारितमोटरलगाईहुईहै।वर्तमानमेंढाणीवासियोंनेअपनेखेतोंमेंकिन्नू,टमाटर,मिर्च,बैंगनआदिकीभीसब्जीएवंफलपैदाकररखेहैं।

वर्षाजलसंरक्षणथाउद्देश्य

ढाणीकेनिवासीपूर्वसरपंचगजराजसिंहबतातेहैंकिकरीब10वर्षपहलेकृषिविभागकेएकअधिकारीकीसलाहसेउन्होंनेढाणीकेसभीघरोंकीछतोंकेपानीकोइकट्ठाकरनेकेलिएएकबड़ाहोदबनायाहुआहै।इसहोदमेंपाइपोंद्वाराबरसातकापानीभराजाताहै।यहकुंडकरीब6मीटरगहराहै,जिसमेंजमापानीकोसोलरमोटरसेपानीखींचकरसिचाई,सब्जीएवंफलउगानेमेंकाममेंलेरहेहैं।3हार्सपावरकीमोटरपरकरीब42हजाररुपयेकाखर्चाआयाहै।इससेबिजलीकीबचतहोरहीहै।

क्याकहतेहैंअधिकारी

कृषिअधिकारीडादेवराजतथाजिलाबागवानीअधिकारीरेवाड़ीडामंदीपयादवकाकहनाहैकिमोड़ीगांवकीयहढाणीजलसंरक्षणवभूमिगतजलरिचार्जकरनेमेंअहमभूमिकानिभारहाहै।इससेफलएवंसब्जियांबेहतरहोपाएंगीवहींभूमिगतजलकोबढ़ावादेंगे।उनसेअन्यकिसानोंकोशिक्षालेनीचाहिए।