जल स्रोत सूखने से सर्दियों में सूखे ग्रामीणों के हलक

संवादसहयोगी,रानीखेत:पर्वतीयक्षेत्रमेंबारिशनहोनेकेकारणसर्दियोंमेंग्रामीणोंकेहलकसूखनेलगेहैं।घरआंगनमेंलगेस्टेंडपोस्टशो-पीसबनकररहगए।लोगोंकोप्यासबुझानेकेलिएकड़ाकेकीठंडमेंमशक्कतकरनीपड़रहीहै।दूरदराजस्थितपारंपरिकजलस्रोतग्रामीणोंकासहाराबनेहुएहैं।इधरअल्मोड़ाहल्द्वानीहाईवेस्थितसरस्वतीशिशुमंदिरखैरनाभीपेयजलउपलब्धनहोनेसेनौनिहालपानीकीबूंदबूंदकोतरसगएहैं।

अल्मोड़ा-हल्द्वानीहाईवेस्थितसरस्वतीशिशुमंदिरखैरनाकोपानीमुहैयाकरानेकोवर्ष2008मेंचुवारीपेयजलयोजनाकानिर्माणकियागया।पर्याप्तमात्रामेंबारिशनहोनेकेकारणस्रोतसूखगयाहैजिससेविद्यालयमेंअध्ययनरतकरीब350विद्यार्थीपानीकीबूंदबूंदकोतरसगएहैं।यहींनहींनिकटवर्तीमझेड़ागांवमेंभीपानीकाअकालबनाहुआहै।जिसकारणलोगगलातरकरनेकोदूरदराजकेजलस्रोतोंपरनिर्भरहोगएहैं।कड़ाकेकीठंडकेबावजूददिनभरप्यासबुझानेकोपानीकीव्यवस्थामेंजुटेरहतेहैं।सरस्वतीशिशुमंदिरकेप्रधानाचार्यतुलसीप्रसादभट्टसमेतगांवकेबाशिंदेभस्करपाडे,दर्शनपाडे,दिगंबरत्रिपाठी,भुवनबधानीवकैलाशपांडेआदिकाकहनाहैकिपानीनहींमिलनेसेकाफीदिक्कतोंकासामनाकरनापड़रहाहै।उन्होंनेशासनप्रशासनसेपानीमुहैयाकरानेकोनईयोजनाकीमांगकीहै।

प्राकृतिकजलस्रोतसूखनेसेपेयजलआपूर्तिप्रभावितहुईहै।आवश्यकतापड़ीकोटैंकरसेपानीमुहैयाकरायाजाएगा।नईयोजनाकेलिएकरीबपांचलाखकाप्रस्तावबनामुख्यालयभेजागयाहै।स्वीकृतिमिलतेहीकार्यआरंभकरदियाजाएगा।

-राजीवकुमार,जेईजलसंस्थान

योजनानेतोड़ादम,ग्रामीणहलकान

=पुनर्गठनकीमांगपरविभागपरलगायाअनदेखीकाआरोप

=पेयजलआपूर्तिबहालनहोनेपरदीआदोलनकीचेतावनीसंवादसहयोगी,द्वाराहाट:विकासखंडकेकईक्षेत्रोंपेयजलव्यवस्थाचरमरानेसेलोगपरेशानहैं।बिपिनत्रिपाठीकुमाऊंप्रौद्योगिकीसंस्थान(बीटीकेआईटी)समेतआसपासगांवोंकेलिएवषरेंपूर्वबनीपेयजलयोजनासेजलापूर्तिनहोनेसेग्रामीणहलकानहैं।विभागपरउपेक्षाकाआरोपलगातेहुएव्यवस्थामेंसुधारकीमांगकी।चेतावनीदीशीघ्रपेयजलमुहैयानहींकरायागयातोसड़कपरउतरनेकोबाध्यहोंगे।

गगासनदीसेबीटीकेआइटी,डढोली,धरमगाव,भौरा,मायापुरीगांवोंसमेतसीएचसी,पॉलिटेक्निकवगौचरक्षेत्रकेलिएदोदशकपूर्वबनीपेयजलयोजनारखरखावकेअभावमेंजीर्णशीर्णहोगईहै।दमतोड़रहीयोजनासेपानीकीआपूर्तिठपपड़ीहै।दोसप्ताहसेपानीनहींमिलनेकेकारणग्रामीणोंमेंरोषपनपनेलगाहैं।बैठककरग्रामीणोंनेकहाकिदमतोड़चुकीयोजनाकेपुनर्गठनकीमांगकेबावजूदविभागसुधनहींलेरहाहै।चेतावनीदीशीघ्रआपूर्तिबहालनहींकीगईतोआदोलनकरनेपरबाध्यहोंगे।

बैठकमेंपूर्वज्येष्ठप्रमुखचंदननेगी,बीरेंद्रबजेठा,मनोजअधिकारी,मोहनसिंहरावतग्रामप्रधानदीपामठपालवअनीताबजेठाआदिमौजूदरहे।

उधरदूरस्थक्षेत्रगनोली,बाबनवसुरईखेतमेंभीविगत10दिनोंसेपानीकेलिएहाहाकारमचाहै।इनक्षेत्रोंमेंनैथनादेवीपंपिंगयोजनासेसप्ताहमेंदोदिनपानीदियाजाताथा।लेकिनइनदिनोंवहभीठपहै।नजदीकमेंपानीकेप्राकृतिकस्त्रोतनहोनेकेकारणलोगोंकोमीलोंदूरसेपानीकाजुगाड़करनापड़रहाहै।राज्यआदोलनकारीकैलाशफुलाराआदिनेसमस्याकात्वरितसमाधानकिएजानेकीमांगकी।