जमीन में दफन हो गए हाइड्रेंट प्वाइंट, कैसे बुझे आग

जासं,मैनपुरी:सूरतअग्निकांडनेविभागीयव्यवस्थाओंकीपरतेंउधेड़कररखदीहैं।शहरमैनपुरीभीप्रारंभिकपड़तालमेंलगभगफेलहोगयाहै।पूरेशहरमेंएकभीहाइड्रेंटप्वाइंटऐसानहींहैजहांसेजरूरतपड़नेपरदमकलकेलिएपानीमिलसके।कुछविस्तारीकरणमेंसड़कोंकेनीचेदबगएतोकुछपालिकाप्रशासनकीअनदेखीमेंखराबपड़ेहैं।अग्निशमनविभागकेइसकेविकल्पकेतौरपरओवरहैडटैंकतोचिन्हितकिएहैं,लेकिनयेशहरकेसिर्फकुछहिस्सोंमेंहीकामआसकेंगे।

अग्निशमनविभागजिलेपहलेहीसंसाधनोंकीकमीसेजूझरहाहै।जिलेमेंनौफायरटेंडरहोनेचाहिए,लेकिनविभागमात्रपांचकेहीसहारेहै।विभागीयआंकड़ोंकीमानेंतोपूरेशहरमेंलगभग50हाईड्रेंटप्वाइंटहुआकरतेथे।लेकिनसड़कोंकेनिर्माणकेदौरानयेसभीदबादिएगए।स्थितियहहैकिआगजनीकेदौरानदमकलोंकेलिएपूरेशहरमेंकहींभीपानीकेइंतजामनहींहोते।कर्मियोंकोयातोअग्निशमनविभागजानापड़ताहैयाफिरनगरपालिकाकेवाटरव‌र्क्सपर।

इससमस्यासेनिपटनेकेलिएविभागनेशहरकेश्रंगारनगर,नगलाकीरत,श्मशानघाट,लोहियापार्क,छपट्टी,ताजदरवाजाऔरदेवीरोडपरबनेओवरहैडटैंककेनीचेएककपलिगलगाईहै।इससेजरूरतपड़नेपरइनक्षेत्रोंमेंतोपानीमिलजाएगालेकिनशहरकालगभग50फीसदबड़ाआबादीवालाइलाकाअबभीसंकटमेंहैं।इनमेंबाजारोंकेबीचसेकईऐसेसंकरेरास्तेहैंजहांदमकलकीगाड़ियांपहुंचहीनहींसकतीहैं।'शहरमेंहाईड्रेंटप्वाइंट्सकेलिएकईबारलिखागया,लेकिनकार्रवाईनहींहुई।हमनेलोगोंसेअपीलकीहैकिवेसबमर्सिबलपंपोंसेपानीजरूरतपड़नेपरउपलब्धकराएं।'

मनुशर्मा,मुख्यअग्निशमनअधिकारीमैनपुरी