जुलाई उगल रही आग, भभुआ में 31 फीसद हुई धान की रोपनी, बारिश की आस में किसान

संवादसहयोगी,भभुआ।किसानोंपरइंद्रदेवमेहरबाननहींहोरहे।जूनमाहमेंसामान्यसेअधिकबारिशहुईतोजुलाईमेंआसमानआगउगलरहाहै,मानोंगर्मीअपनेपीकसमयपरहो।जबकिवर्तमानसमयमेंकिसानोंकोपानीकीदरकारहै।पानीकेअभावमेंजुलाईमाहकेदूसरेपखवाड़ेतकमात्र31प्रतिशतधानकीरोपनीहीहोपाईहै।जबकिजुलाईमाहकेदूसरेपखवाड़ेकेशुरूहोनेतककरीब60फीसदसेअधिकरोपनीहोजानीचाहिएथी।लेकिनबारिशनहींहोनेसेकिसानोंकोपरेशानीकासबबझेलनापड़रहाहै।आलमयहहैकिसानदूसरेकेखेतोंसेपानीनिकालकररोपनीकरानेमेंलगेहै।कहींकहींपरतोऐसेमामलोंमेंमारपीटकीतकनौबतआजारहीहै।हरदिनआसमानमेंबादलबनतेहै,लेकिनबिनबरसेहीनिकलजातेहै।बादलबनतेहीकिसानोंकेचेहरेखिलजातेहै,लेकिनबिनाबरसेबादलोंकेचलेजानेकेकिसानोंकेचेहरेएकबारफिरमुरझाजातेहै।बुजुर्गकिसानोंको1966केअकालकीयादेंतकआनेलगीहै।मजबूरनडीजलकीबढ़ेहुएदामोंकाबिनापरवाहकरतेकिसानडीजलपंपचलाकरखेतोंमेंपानीभररोपनीकरानेमेंजुटेहै।कृषिविभागसेप्राप्तजानकारीकेमुताबिकजिलेमें31प्रतिशतधानकीरोपनीहोचुकीहै।

सोननदीतथादुर्गावतीजलाशयसेपानीछोड़ेजानेकेबादभीपानीकीमारामारी

जानकारीकेमुताबिकरोहतासकेइंद्रपूरीबराजसेपानीछोडऩेकेबावजूदभीकैमूरजिलेमेंपानीकीमात्राकमपहुंचरहीहै।कईजगहोंपररोहतासमेंनहरकोबांधकरखेतीकीजारहीहै।थोड़ापानीआताहैतोनहरकेआसपासकेलोगखेतीकरनेमेंउसकाउपयोगकरलेरहेहै।इसकारणज्यादातरकिसानोंकेखेतजैसेतैसेपड़ेहुएहैं।जबकिदुर्गावतीजलाशयसेभी200क्यूसेकपानीबाएंतरफकीनहरमेंतथा300क्यूसेकदुर्गावतीनदीमेंपानीछोड़ागयाहै।यहपानीभीजिलेकेलोगोंकेलिएकमपड़रहाहै।पानीछोड़ेजानेकेबावजूदकिसानोंकोमोटर,पंप,डीजलपंपआदिकेसहयोगसेखेतोंमेंपानीभरनेकोमजबूरहै।

डीजलकेबढ़ेदामभीइसबारकिसानोंकोपरबरपारहीकहर

जहांकिसानबारिशनहोनेसेपरेशानहै,तोदूसरीओरसरकारनेभीडीजलवपेट्रोलकीकीमतोंमेंलगातारबढ़ोतरीकरकिसानोंकोपरेशानकररहीहै।किसानोंकोकरीब97रूपयेप्रतिलीटरडीजलखरीदकरडीजलपंपचलाकरखेतोंमेंपानीभररहेहै।खेतकीजोताईभीट्रैक्टरमालिकोंनेदोहजाररूपयेप्रतिएकड़करदियाहै।खादकीकीमतोंपरभीकिसानोंकोअधिकपैसादेनापड़रहाहै।

किसप्रखंडमेंकितनाहुआधानकारोपनी

प्रखंडकानाम  -  लक्ष्य  - अधिप्राप्ति

दुर्गावती-8270-2415