कांग्रेस के नेताओं से सोनिया गांधी ने कहा, राहुल अब मेरे भी बॉस हैं

नईदिल्लीपूर्वकांग्रेसअध्यक्षसोनियागांधीनेसाफकहाहैकिराहुलगांधीअबउनकेभीबॉसहैं।पार्टीकीसंसदीयदलकीबैठकमेंउन्होंनेअपनीभूमिकाकोलेकरतमामशंकाओंऔरअफवाहोंपरपूर्णविरामलगानेकीकोशिशकी।उन्होंनेकहा,'हमारेपासनएकांग्रेसअध्यक्षहैंऔरमैंआपकीवखुदअपनीओरसेउन्हेंशुभकामनाएंदेतीहूं।'इसीदौरानसोनियानेकहा,'वह(राहुलगांधी)अबमेरेभीबॉसहैं।इसबारेमेंकिसीकोकोईसंदेहनहींहोनाचाहिए।'सोनियाकेइसबयानकोराहुलकेकांग्रेसअध्यक्षबननेसेकथिततौरपरअसंतुष्टपार्टीनेताओंकेलिएबड़ासंदेशमानाजारहाहै।गौरतलबहैकिराहुलगांधीकोकांग्रेसपार्टीकीकमानसौंपनेकेबादसोनियागांधीनेराजनीतिसेरिटायरमेंटकाऐलानकियाथा।हालांकिकांग्रेसपार्टीकीओरसेकहागयाथाकिसोनियागांधीसिर्फअध्यक्षपदसेरिटायरहुईहैं,राजनीतिसेनहीं।संसदीयदलकीबैठककेदौरानसोनियानेमोदीसरकारपरभीनिशानासाधा।उन्होंनेकहाकिकेंद्रकीसरकार'अधिकतमपब्लिसिटी,न्यूनतमसरकार'और'अधिकतममार्केटिंग,न्यूनतमडिलिवरी'केतौरपरकामकररहीहै।मोदीसरकारपरबड़ाहमलासोनियागांधीनेआरोपलगायाकिलोकतंत्रकेतमामसंस्थानोंकोजानबूझकरनिशानाबनायाजारहाहै।उन्होंनेयहभीआरोपलगायाकिसरकारराजनीतिकप्रतिद्वंद्वियोंकोटारगेटकरनेकेलिएजांचएजेंसियोंकाइस्तेमालकररहीहै।सोनियागांधीनेकहा,'इससरकारकोसत्तामेंआएहुएकरीबचारसालहोचुकेहैं।इसदौरानसंसद,न्यायपालिका,मीडियाऔरसिविलसोसायटीसमेतकईलोकतांत्रिकसंस्थानोंकोनिशानाबनायागया।'उन्होंनेआगेकहा,'दलितोंऔरअल्पसंख्यकोंकेखिलाफहिंसाकीछिटपुटवारदातेंनहींहोरहीहैंबल्किजानबूझकरसंकीर्णराजनीतिकलाभकेलिएसमाजमेंध्रुवीकरणकीकोशिशहोरहीहै।'इसदौरानउन्होंनेगुजरातकेविधानसभाचुनावऔरराजस्थानमेंहुएउपचुनावोंमेंपार्टीकेशानदारप्रदर्शनकाभीजिक्रकिया।उन्होंनेकहाकियेनतीजेबतातेहैंकिहवाबदलरहीहै।उन्होंनेकहा,'मैंइसबातकोलेकरआश्वस्तहूंकिकर्नाटकमेंभीकांग्रेसकाप्रदर्शनबेहतररहेगा।'कांग्रेसमेंहालमेंहुआपीढ़ीगतबदलावहालहीमेंपार्टीमेंपीढ़ीगतबदलावहुआहै।राहुलअपनीमांसोनियागांधीकीजगहअध्यक्षचुनेगए।सोनिया19सालतकइसपदपररहीं।वह1998मेंकांग्रेसकीअध्यक्षबनीथीं।यहबदलावदेशकीसबसेपुरानीपार्टीमेंनएयुगकाआगाजमानागयाहै।