कानपुर में दिखी कांग्रेस कमेटी की खेमेबंदी, टी-पार्टी में नहीं आमंत्रित किए गए नगर जिलाध्यक्ष

कानपुर,जेएनएन।InternalConflictofCongressवर्तमानसमयमेंदेशकीराजनीतिपरनजरडालेंतोसबसेपुरानीपार्टीयानिकांग्रेसअपनेअस्तित्वकेलिएजद्​दोजहदकरतीनजरआरहीहै।किसीभीचुनावमेंजबकिसीपार्टीकीहारपरसमीक्षाहोतीहैतो सबसेबड़ेऔरप्रमुखकारणोंमेंसेखेमेबंदीमुख्यवजहहोती है।शहरकांग्रेसकमेटीकीबातकरेंतोअबइसकादायराखत्महोतानजरआरहाहै।सोमवारकोजिलाध्यक्षोंकेखिलाफयहखेमेबंदीउसवक्तजगजाहिरहोगईजबशहरकांग्रेसकमेटीउत्तरऔरदक्षिणकेजिलाध्यक्षोंकीगैरमौजूदगीमेंचायपार्टीकेलिएदिग्गजनेताजुटे।

सिविललाइंसमेंपीसीसीसदस्यकृपेशत्रिपाठीऔरसंदीपशुक्लाकेनेतृत्वमेंकांग्रेसकेकईवरिष्ठकांग्रेसनेताओंकाजमावड़ालगा।मौकाथाकोरोनासंक्रमणमेंलंबेसमयबादचायपार्टीकेबहानेशिष्टाचारभेंटका।इसआयोजनमेंशहरकांग्रेसकमेटीउत्तरकेजिलाध्यक्षनौशादआलममंसूरीऔरदक्षिणजिलाध्यक्षडॉ.शैलेंद्रदीक्षितआमंत्रितनहींथे,जबकिदोबड़ेऔरदिग्गजनेतापूर्वकेंद्रीयमंत्रीश्रीप्रकाशजायसवालऔरपूर्वविधायकअजयकपूरनेइसबैठकसेदूररहनाहीउचितसमझा।बतादेंकिकोरोनामहामारीभयानकपरिदृश्यमेंशहरकांग्रेसकमेटीकाआंदोलननहींदिखा।इसीकानतीजाहैकिचिकित्सीयव्यवस्थासेपरेशानआदमीसरकारसेभीनाराजहै,लेकिनवहकांग्रेससेनहींजुड़सका।

...तोटी-पार्टीकायहथाउद्​देश्य:आयोजनकर्ताओंकेमुताबिकइसटी-पार्टीकामूलउद्​देश्यपार्टीकीकार्यशैलीकीसमीक्षाकरनाथा,क्योंकिशहरकांग्रेसकमेटीकहींनकहींअपनेकामसेभटकगईहै।बतायागयाकिआगामीविधानसभाचुनावकीतैयारियोंमेंजुटींप्रियंकावाड्रातोयहीसोचरहींहैंकिसत्तासेसीधेकांग्रेसकीलड़ाईहोगीलेकिनजमीनीहकीकतइससेजुदाहै।सत्तापक्षकीगिनतीमेंकांग्रेसएकक्षेत्रीयपार्टीहै। परिणामस्वरूप,कांग्रेसकेदिग्गजोंकीबैठकसेनिकलासंदेशप्रदेशकांग्रेसकमेटीऔरप्रियंकावाड्रातकभीपहुंचचुकाहै।अबदेखनेवालीबातहैकिआखिरप्रदेशकांग्रेसकमेटी(पीसीसी)कोईनिर्णयलेगीयाफिरखेमेबंदीकोपुरानीबातसमझकरहरबारकीतरहनजरअंदाजकरदेगी।