कभी सिचाई का साधन था गढ़ी बुंदू खां का तालाब

संसू,हाथरस:किसीजमानेमेंसिकंदराराऊनगरकेआसपाससिचाईकाप्रमुखसाधनमानेजानेवालागढ़ीबुंदूखांकातालाबअबपूरीतरहसूखचुकाहै।इसमेंकंटीलीझाड़ीवघासफूसनेअपनाकब्जाकररखाहै।इसतालाबकीदुर्दशाकीचितानतोनगरवासियोंकोहैऔरनहीस्थानीयप्रशासनको।इसकेउद्धारकीओरकभीकदमकोईकदमनहींउठायागया,जिससेयहतालाबपूरीतरहसेउपेक्षितहै।इसकाफायदाभू-माफियाउठारहेहैंऔरउनकीकुदृष्टिभीइसपरहै।

नगरकेमोहल्लागढ़ीबुंदूखांमेंरेलवेमालगोदामकेसामनेस्थिततालाबपूरीतरहसूखचुकाहै।कभीगर्मीकेमौसममेंभीपानीसेलबालबरहनेवालेतालाबमेंअबपानीकीजगहघासएवंबबूलकेपेड़ोंनेलेलीहै।खालीजगहपरलोगोंनेअपनेपशुबांधने,बिटोरेरखनेप्रारम्भकरदिएहैं।तालाबकासूखनास्थानीयलोगोंकेसाथ-साथपशुपक्षियोंकेलिएभीमुसीबतकासबबबनरहाहै।इसतालाबसेपुरानेसमयमेंलोगखेतोंकीसिचाईभीकरलेतेथेऔरपशुओंकोपानीकीकमीनहींरहतीथी।वर्तमानमेपरिस्थितियांएकदमविपरीतहोगईहैं।तालाबकेनामपरमात्रएकगड्ढारहगयाहैजिसमेंकेवलवर्षाऋतुमेंहीपानीभरादिखाईदेताहै।तालाबकाअस्तित्वलगभगसमाप्तहोचुकाहै,जिसकीवजहसेइलाकेकाजलस्तरकाफीनीचेचलागयाहै।हैंडपंपपानीछोड़रहेहैं।एकओरजहांसरकारजलसंचयनपरजोरदेरहीहै,वहींस्थानीयस्तरपरकोईकामहोतादिखाईनहींदेरहाहै।ऐसाप्रतीतहोताहैकिसारीकसरतसिर्फकागजोंतकहीसिमटकररहगईहै।इसकीउपेक्षाकेलिएजहांस्थानीयनागरिकपूरीतरहदोषीहै,वहींप्रशासननेभीकभीतालाबकीदुर्दशापरध्याननहींदिया।कमसेकमतालाबकीपैमाइशकरइसकीघेराबंदीकरनेकेबादखोदाईऔरसफाईहोजाएतोइसकालाभस्थानीयलोगोंकोमिलनेलगेगा।