कहीं और जहर न घोल दे जहर का इलाज!

सुरेशउपाध्यायनईदिल्ली।।मुंबईपोर्टपरपानीमेंफैलेजहरकोसाफकरनेकीकोशिशेंपानीमेंऔरजहरघुलनेकीआशंकापैदाकररहीहैं।पानीमेंकीटनाशकोंकेमिलनेसेसमस्याऔरगहरागईहै।7अगस्तकीसुबहमालवाहकपोतएमएससीचित्राऔरखलीजियाकेबीचटक्करहुईथी।इसटक्करकेबादचित्राकेटैंकोंसेतेलकारिसावशुरूहोगयाऔरबादमेंउसपरलदेकंटेनरसमुद्रमेंगिरनेलगे।अनुमानहैकिइसदौरानकरीब800टनतेलकारिसावहुआ,जोसमुद्रमेंकाफीदूर-दूरतकफैलगयाहै।पानीकीसतहपरतेलकाफैलावहोनेसेजलमेंजहरतोघुलताहीहै,उसमेंऑक्सिजनकेघुलनेकीप्रक्रियाभीधीमीपड़जातीहै,जिससेजलीयजीवोंकीजिंदगीसंकटमेंपड़जातीहै।मुंबईमेंफैलेतेलकोसाफकरनेकेलिएकेमिकल्स(डिस्पर्सेंट)काइस्तेमालकियाजारहाहै।विशेषज्ञोंकाकहनाहैकिपानीमेंरिसेतेलकोसाफकरनेवालेकेमिकल्सतेलसेभीज्यादाजहरीलेहोतेहैं।इनसेसमुद्रमेंफैलेतेलसेतोनिजातमिलजाएगी,लेकिनपानीमेंजोजहरघुलेगा,उसकाअसरसालोंतककायमरहेगा।यहस्लोपॉयजनकाकामकरेगा।विकसितदेशोंमेंऐसेकेमिकल्सकेइस्तेमालपरबैनलगादियागयाहै,कमसेकमतटीयइलाकोंमेंतोइनकाप्रयोगकतईनहींकियाजाता।दरअसल,पानीमेंफैलेतेलसेमुक्तिपानेकेलिएपहलेप्रभावितइलाकेकीघेराबंदीकरनीहोतीहै।यहकामरबरट्यूब्सकीमददसेकियाजाताहै।घेराबंदीकेबादतेलकोपंपकीमददसेनिकाला(सककिया)जाताहै।फिरबचेहुएतेलकोसाफकरनेकेलिएमाइक्रोब्स(जीवाणुओं)कासहारालियाजाताहै,जोतेलकोअपनीखुराकबनालेतेहैं।लेकिन,मजबूरीयहहैकिमॉनसूनकेसीजनमेंसमुद्रउग्रदोजाताहैऔरबैरिकेडिंगकरनाआसाननहींहोता।तटकीओरलहरोंकावेगबढ़नेसेतेलऔरसमुद्रमेंगिरीअन्यसामग्रीकिनारोंकीओरआजातीहै।इससेपानीकेसाथहीतटभीप्रदूषितहोजाताहै।कीटनाशकभीहोरहेहैंघातकऑर्गेनोफॉस्फोरसभीघुलापानीमेंचित्राऔरखलीजियाकीटक्करसेतेलतोरिसाही,कंटेनरोंसेसमुद्रमेंगिरेकीटनाशकभीअबपानीमेंजहरघोलनेलगेहैं।तटीयक्षेत्रोंमेंबड़ीमात्रामेंकीटनाशकगोलियांमिलीहैं।शुरुआतीजांचमेंपताचलाहैकियेऑर्गेनोफॉस्फोरसकंपाउंडसेबनीगोलियांहैं।ऑर्गेनोफॉस्फोरसएकघातकविषहै।यहश्वसनप्रणालीऔरनर्वससिस्टमपरअटैककरताहै।राहतकार्यमेंलगेकर्मचारियोंकाकहनाहैकिइसकेसंपर्कमेंआनेसेसिरदर्द,आंखोंमेंजलनऔरउल्टीआनेकीशिकायतहोरहीहै।यहपानीकेसंपर्कमेंआनेकेबादकाफीसक्रियहोजाताहै।इंडियनजर्नलऑफएनेस्थीसियाकीएकरपटकेमुताबिक,यहश्वसनप्रणालीकोफेलकरसकताहै,दिलकीधड़कनेंअसामान्यरूपसेबढ़ासकताहै,इसकेकारणबीपीबढ़ने,चक्करआनेऔरउल्टी-दस्तकीशिकायतहोसकतीहै।इसकीगोलियांपैक्डथीं,उम्मीदहै,वहज्यादाजहरनहींघोलेंगी।