खतरे से एक फीट के फासले पर घग्घर, तटबंध टूटने के आसार

जागरणसंवाददाता,सिरसा:

घग्घरनदीशुक्रवारकोउफानपररही।खतरामहजएकफीटकेफासलेपरहै।नदीमेंपानी21फीटकेनजदीकपहुंचगयाहैजबकि22फीटकेबादखतराहै।मुसाहिबवाला,लहंगेवाला,मत्तड़,रंगा,पनिहारी,बुर्जकर्मगढ़,नागोकी,बुढ़ाभाणा,मल्लेवाला,नेजाडेला,सहारणी,खैरेकांमेंदिनभरखतराबनारहा।मल्लेवाला,सहारणीऔरनेजाडेलाखुर्दमेंघग्घरनदीकेअंदरपंचायतकीओरसेबनाएगएरिगबांधटूटगएजिससेघग्घरकेअंदरुनीहिस्सेमेंखेतीकररहेकिसानोंकीफसलेंडूबगई।तीनोंहीगांवोंमेंसैकड़ोंएकड़मेंफसलोंमेंजलभरावहोगया।लीकेजहोतेहीग्रामीणोंनेसंभालीकमान

शुक्रवारकोनेजाडेलाकेसमीपतटबंधसेपानीलीकेजहोनाशुरूहुआ।मौकेपरउपस्थितग्रामीणोंनेइसेदेखलियाऔरफिरबांधकोमजबूतकरनेमेंजुटगए।पहलेसेमंगाईगईजेसीबीसेमिट्टीडालनेकाकामशुरूकियागया।लीकेजकीजानकारीकुछसमयनहींमिलतीतोबांधटूटसकताथा।मल्लेवालानिवासीसरपंचप्रतिनिधिदर्शनसिंह,नेजाडेलाकेसरपंचप्रहलादसिंह,जयसिंह,कुलदीपनेबतायाकिलीकेजकोतोसमयरहतेकाबूकरलियागयाहै।उन्होंनेविभागसेमांगकीहैकिजेसीबी,खालीबैगऔरबांधपरलाइटकाप्रबंधकियाजाए।ग्रामीणोंनेलगायाठीकरीपहरा

सरदूलगढ़सेसिरसाआरहीघग्घरमेंजलस्तरखतरेकेनिशानपरपहुंचनेकेचलतेकिसानोंनेअपनेस्तरपरठीकरीपहरेलगादिएहैं।जहांदिन-रातकिसानपहरादेरहेहैं।इनकिसानोंकाकहनाहैकिखुदखड़ेरहेंगेतोअधिकसतर्कताकेसाथनिगरानीकरेंगे।दससेअधिकगांवकेकिसानोंनेकिसाननेताकर्णचाडीवालकेनेतृत्वमेंउपायुक्तसेमुलाकातकी।जिसमेंफरवाईंकलां,खुर्द,पनिहारी,झोपड़ावअन्यस्थानोंपरजलस्तरबढ़नेकेकारणटूटनेकाखतराहैइसलिएरिगबांधोंकोऔरअधिकमजबूतकियाजाए।शनिवारसेघटेगापानी

अधिकारिकसूत्रोंकेअनुसारघग्घरकेखनोरीहेडपरदोपहरको14425क्यूसेकपानीथा।चांदपुरहेडपरइसकीमात्रा11900रही।शुक्रवाररात्रिकोपानीकीमात्राऔरबढ़नेकाअनुमानलगायागयाहै।ओटूसे10800क्यूसेकराजस्थानकेलिएतथा2हजारक्यूसेकसिरसाकीनहरोंमेंघग्घरकापानीछोड़ागयाहै।पानीछोड़नेकीयहीक्षमताहै।घग्घरमेंपानीकास्तर21फीटकेकरीबपहुंचागयाहै।कैलीबनीसमस्या,सांसतमेंअधिकारी

पंजाबसेसिरसाआरहीघग्घरकेटूटनेकाकारणकैलीबनसकतीहै।राजस्थानसाइफनपरकैलीबड़ीमात्रामेंइकट्ठीहोगईहैऔरयहांकईजेसीबीऔरट्रैक्टरट्रालीलगाकरकैलीकोहटायाजारहाहै।इसीप्रकारओटूकेहारणीमेंभीपानीनिकासीमेंकैलीबाधाबनगईहै।यहांभीजेसीबीकीमददसेकैलीनिकालीजारहीहै।रानियां,ऐलनाबादरोडपरभीपुलपरकैलीरातकोहीफंसगईहै।यहांभीरातकोहीबड़ीसंख्यामेंमजदूरवजेसीबीलगानीपड़ी।

सिरसामेंवर्ष1988मेंघग्घरनदीकहरमचाचुकीहै।इसकेबाद1993व1995मेंबाढ़आगई।वर्ष2010मेंघग्घरटूटगईऔरबाढ़आगई।इसवर्षतो70सेअधिकगांवप्रभावितहोगएथेऔर33हजारएकड़फसलप्रभावितहुईथी।1993मेंदसहजारएकड़फसलतबाहहुईथी।ग्रामीणोंकेअनुसारघग्घरमेंवर्ष2010केतरहहीहालातबनेहैं।सिचाईविभागअलर्टमोडमें,अधिकारियोंनेघग्घरपरडालाडेरा

घग्घरमेंपानीबढ़नेकीसूचनाकेबादनहरविभागकेसभीवरिष्ठअधिकारीघग्घरपरहीहैं।रातढाईबजेसेघग्घरपरहीहैंऔरअभीभीघग्घरकामुआयनाकररहेहैं।तीनस्थानोंपरकैलीएकत्रितहुईहैउसेनिकालरहेहैं।शनिवारतकपानीकमओजाएगा।अभीस्थितिपूरीतरहनियंत्रणमेंहैऔरघग्घरकेटूटनेकेआसारकमहै।घग्घरकेसभीबाहरीतटबंधमजबूतकिएगएहैं।

एनकेभोला,एक्सईएन,घग्घरडिविजन