कलकत्ता हाईकोर्ट के फैसले ने 40 साल बाद एक नेपाली नागरिक को दी नई जिंदगी, जेल से रिहा हुआ कैदी

राज्यब्यूरो,कोलकाता:कलकत्ताहाईकोर्टकेफैसलेने40सालबादएकनेपालीनागरिककोनईजिंदगीदीहै।नेपालीनागरिकको40सालपहलेएकहत्याकेमामलेमेंगिरफ्तारकियागयाथाऔरतबसेउसेविचाराधीनकैदीकेरूपमेंजेलमेंरखागयाथा।इसमामलेकोकोर्टनेसंज्ञानमेंलियाथा।बुधवारकोकोर्टनेकैदीकीरिहाईकेआदेशदिए।दीपकजयशीकोलकाताकेदमदमकेंद्रीयसुधारगृहमेंपिछले40सालोंसेबंदहै।उसे1981मेंदार्जिलिंगमेंएकव्यक्तिकीहत्याकेआरोपमेंगिरफ्तारकियागयाथा।दीपककीउम्रउससमय30सालथी।अबवह70सालकाहोचुकाहै।

खासबातथीकिइनसालोंमेंउसकेरिश्तेदारों,मित्रोंआदिकिसीकोपताहीनहींथाकिवहकहांपरहै।उसकेबारेमेंजानकारीतबसामनेआईजबहैमरेडियोकोउसीसुधारगृहसेनिकलेएकव्यक्तिसेउसकेबारेमेंजानकारीमिली।इसकेबादहैमरेडियोनेजयशीकेबारेमेंपतालगाया।जबजयशीकेरिश्तेदारोंकोपताचलाकिवहबंगालकीजेलमेंबंदहैतोउन्होंनेनेपालसरकारसेसंपर्ककिया।

चीफजस्टिसनेमामलेकासंज्ञानलिया

-खबरबाहरआनेकेबादकलकत्ताहाईकोर्टकेचीफजस्टिसनेमामलेकासंज्ञानलियाऔरहैमरैडियोके वकीलहीरकसिन्हासेकोर्टमेंयाचिकादाखिलकरनेकोकहा।इससालकीशुरुआतमेंहीहाईकोर्टमेंहैमरेडियोकीओरसेजयशीकीरिहाईऔरउसेंनेपालभेजेजानेकोलेकरयाचिकादाखिलकीगईथी।राज्यकानूनीसेवाप्राधिकरणकेवकीलजयंतनारायणचटर्जीनेकहाकिजयशीनेअपनामानसिकसंतुलनखोदियाहैऔरउसेअपनेनेपालमेंअपनेमूलस्थानकेबारेमेंकुछभीयादनहींहै।

कोर्टनेचचेरेभाईकोजिम्मेदारीसौंपी

-जयशीकीस्थितिकोजाननेकेबादमुख्यन्यायाधीशटीबीएनराधाकृष्णनऔरन्यायमूर्तिअनिरुद्धरॉयकीखंडपीठनेजयशीकोरिहाकरनेकाआदेशदियाऔरउसकेचचेरेभाईप्रकाशचंद्रशर्मातमसीनाकोदीपकजयशीकीजिम्मेदारीसौंपीहै।जानकारीसामनेआनेकेबादप्रकाशइसमामलेमेंएकपक्षकारथे।पीठनेतमसीनाकोजयशीकोलेकरजानेकेलिएएकसाधारणबांडअदालतकेसामनेपेशकरनेकोकहा।

अदालतनेनिर्देशदियाकिइसबांडकोकोलकातामेंनेपालकेमहावाणिज्यदूतावासकेकार्यालयसचिवसतीशथापाद्वारासत्यापितहोनाजानाचाहिए।पीठनेबांडजमाकरनेकेएकदिनकेभीतरदमदमसुधारगृहकोदीपककोरिहाकरनेकानिर्देशदियाहै।इसकेसाथहीकोलकातामेंनेपालकेमहावाणिज्यदूतावासकीजानकारीमेंजयशीकोनेपालभेजनासुनिश्चितकियाजाए।