कंस्ट्रक्शन कंपनी के मुंशी से पहले मांगी गई थी रंगदारी

समस्तीपुर।रंधीरकीहत्याकेमामलेमेंपुलिसकईबिन्दुओंपरछानबीनकररहीहै।घटनाकेबादसंदेहकेआधारपरपुलिसनेशहरमेंछापेमारीभीकीहै।एसडीपीओअजितकुमारनेबतायाकिसंदेहकेआधारपरपूछताछकेलिएशहरकेएकव्यवसायीकेयहांछापेमारीकीगईहै।हालांकिएसडीपीओनेअनुसंधानकेबादमामलेकाखुलासाकरनेकीबातकहीहै।वहींजामस्थलपरजुटेपरिजनोंनेपुलिसकेसमक्षबतायाकिपूर्वमेंभीकंस्ट्रक्शनकंपनीकेमुंशीसेरंगदारीमांगीगईथी।हालांकिइसमामलेकोलेकरपुलिसमेंकोईमामलादर्जनहींकरायागयाथा।सोमवारकोकंस्ट्रक्शनकंपनीकेप्रोपराइटरकीहत्याकेबादपुलिसकीसक्रियताअचानकबढगईहै।इसघटनाकेबादसेपुलिसपूरीतरहहरकतमेंआगईहै।वहींमृतककेपरिजनोंकायहभीकहनाथाकिरंधीरकेपाससाठहजाररुपयेनकदभीथे।परिजनोंकेद्वारायहभीसंदेहजतायाजारहाहैकिलूटकेदौरानप्रतिरोधकरनेपरअपराधियोंनेहत्याकरदीहो।लोगोंमेंइसबातकीभीचर्चाहैकिकंस्ट्रक्शनकंपनीकेसंचालकपरस्थानीयकईव्यवसायियोंकारुपयाबकायाथा।लोगपूरेमामलेकोकईपहलुओंसेजोड़करदेखतेहुएइसेपूरीतरहपेचीदाबतारहेहैं।सभीकीनजरपुलिसियाअनुसंधानपरजाटिकीहै।अबकितनेदिनोंमेंपुलिसइसमामलेकाखुलासाकरपातीहै,इसपरलोगोंकीनिगाहेंटिकीहै।