कोरोना के चार दिन में मिले पांच मामले, सतर्क नहीं हो रहे लोग

जागरणसंवाददाता,सुपौल:कोरोनाकेफिरसेमामलेसामनेआनेलगेहैं।शुक्रवारकोराघोपुरथानाक्षेत्रमेंदोनयेमामलेआएहैं।येदोनोंकोरोनापाजिटिवछात्रहैंऔरबाहरसेआयेहैं।इसतरह28दिसंबरसेअबतककोरोनाकेपांचमामलेसामनेआचुकेहैं।सभीकोरोनापाजिटिवकोहोमआइसोलेशनमेंरखागयाहै।इससबकेबीचआमलोगोंकेचेहरेपरकोईशिकननहींदिखाईपड़रहीहै।हरकोईबेपरवाहदिखरहाहैऔरयहीस्थितिकोरोनाकेग्राफबढ़ानेमेंसहायकहोसकतीहै,जोपिछलेदोलहरमेंहुआहै।मास्कवसोशलडिस्टेंसिगजैसेनियमोंकोअनदेखीकरहजारोंकीसंख्यामेंलोगशहरोंमेंघूमतेनजरआरहेहैं।लोगमास्कसेदूरीबनालीहैऔरफिजिकलडिस्टेंसिगकहींदिखतीहीनहींहै।

----------------------------------------

बढ़ाईजाएगीजांच

कोरोनासंक्रमणकीशुरुआतीस्थितिकोदेखतेहुएजिलेमेंएंटीजन,आरटीपीसीआरवट्रूनेटजांचभीबढ़ाईजाएगी।जोजांचअभीप्रतिदिनसाढ़ेचारहजारकेलगभगहोतीहैउसीजांचमेंबढ़ोत्तरीकीजाएगी।इधरटीकाकरणकाभीकार्यजोरशोरसेचलरहाहै।पुरस्कारवितरणकरलोगोंकोजल्दसेजल्दटीकालगवानेकेलिएजागरूककियाजारहाहै।

-----------------------------------------------------

अगरकोरोनाकेसंभावितआक्रमणकोरोकनाहैतोलोगोंकोस्वयंमेंसजगतालानाहोगा।सजगतासेहीस्वयंवअपनेस्वजनोंकीरक्षाइसवायरससेकरसकतेहैं।हालांकिबाजारोंमेंभीड़कीजोस्थितिहैउसेदेखकोरोनाकेमरीजोंकीसंख्यामेंऔरबढ़ोतरीहोनेकीबातसेइंकारनहींकियाजासकता।इसकेसंभावितवारसेबचनेकेलिएअभीसेहीतैयाररहनाहोगा।