कोरोना संक्रमित होने पर मेडिकल लीव देने की निदा

जागरणसंवाददाता,संगरूर:

शिक्षाविभागनेकोविडसंक्रमितअध्यापकोंकोछुट्टीदेनेकीबजायमेडिकलछुट्टीयाकोईअन्यछुट्टीलेनेकेनिर्देशजारीकरघोरपक्षपातकियाहै।इसकाडीटीएफपंजाबनेकड़ेशब्दोंमेंनिदाकीहै।

संगठनकेराज्यउपप्रधानरघवीरसिंहभवानीगढ़,राज्यकमेटीकेसदस्यमेघराजवजिलाप्रधाननिर्भयसिंहनेकहाकिपंजाबसरकारकेपरसोनलविभागनेचारमईकोपत्रजारीकरकहाथाकिकोईकर्मचारीयाउसकापारिवारिकसदस्यकोरोनापाजिटिवआनेपरपूरेवेतनवक्वारंटीनछुट्टीकाहकदारहै,लेकिनअबडायरेक्टरशिक्षाविभागकार्यालयनेअपनाअलगसेपत्रजारीकरपाजिटिवअध्यापककोक्वारंटीनछुट्टीकीबजायमेडिकलवदूसरीछुट्टीदेनेकेनिर्देशजारीकिएहैं।इससेसमूहअध्यापकवर्गमेंरोषहै।उन्होंनेसरकारसेमांगकीकिकोविडसंक्रमितपाजिटिवकर्मचारियोंको17से30दिनतककावेतनस्केलवस्पेशलक्वारंटीनछुट्टीदीजाए,सभीस्कूलोंमेंबगैरशर्तरोजाना50प्रतिशतहाजिरीकाफैसलालागूकियाजाए,कोविडसेमरनेवालेअध्यापकोंकोपचासलाखरुपयेकीबीमाराशिवगर्भवती,कैंसरवदूसरीबीमारियोंसेपीड़ितअध्यापकोंकोघरसेकामकेतहतस्कूलआनेसेछूटदीजाए।इसमौकेपरअध्यापकोंनेकहाकियदिसरकारनेउनकीमांगोंपरध्याननहींदियातोसंघर्षकोऔरतेजकियाजाएगा।इसकीपूरीजिम्मेदारीसरकारकीहोगी।विभागद्वाराकीजारहीइसतरहकीधक्केशाहीकोकिसीहालतपरसहननहींकरेंगे।सरकारकीइसनीतिसेशिक्षकोंकोभारीनुकसानकासामनाकरनापड़ेगा।