कोसी नदी से सटे गांव बूंद-बूंद पानी को तरसे, ग्रामीणों ने उठाई पंपिंग पेयजल योजना बनाए जाने की मांग

जागरणसंवाददाता,रानीखेत/गरमपानी(नैनीताल):पर्वतीयक्षेत्रोकेहालभीअजबगजबहै।पहाड़ोंमेंसुविधाएंनजदीकहोनेकेबावजूदगांवोंकेलोगोंकोइसकालाभनहींमिलपारहा।कोसीनदीसेकुछदूररहनेवालेसैकड़ोंग्रामीणबूंद-बूंदपानीकेलिएतरसरहे।ग्रामीणोंनेकोसीनदीसेपेयजलपंपिंगयोजनाकानिर्माणकिएजानेकीपुरजोरमांगउठाईहै।सर्दियोंमेंभीतमामगांवोंमेंपेयजलकाअकालपड़ाहुआहै।ग्रामीणदूरदराजकेक्षेत्रोंसेपानीढोनेकोमजबूरहैं।कईजगहवाहनोंसेतकपानीढोयाजारहाहै।कईगांवोंमेंलोगपानीकेकारणपलायनतककरचुकेहैं।कोसीनदीकेआसपासकेगांवभीपानीकेलिएतरसरहेहै।

रानीखेतखैरनास्टेटहाइवेसेसटेचापड़,कमान,अस्तोला,टूनाकोटधारीआदितमामगांवोंमेंपेयजलसंकटबनाहुआहै।गांवकेलोग पानीकीबूंदबूंदकेलिएपरेशानहै।कईबारआवाजउठाएजानेकेबावजूदग्रामीणोंकीसमस्याकासमाधाननहींहोरहा।ग्रामीणोंकाआरोपहैकिधूराफाटक्षेत्रकेअंतिमगांवहोनेकेचलतेलगातारउपेक्षाकीजारहीहै।कोसीनदीकुछहीदूरीपरहैजहांसमुचितमात्रामेंपानीउपलब्धहैबावजूदगांवकेलोगप्यासेहैं।स्थानीयसुनीलमेहरा,गिरीशचंद,दीपकजोशी,गणेशजोशी,कमलराणा,चंदनसिंह,हरेंद्रसिंह,पानसिंह,जीवनसिंह,ज्ञानसिंह,भोलासिंह,गोपालसिंह,चंदनसिंहआदिलोगोंनेकोसीनदीसेपेयजलपंपिंगयोजनाकानिर्माणकिएजानेकीमांगउठाईहैताकिगांवोंकेलोगोंकोलाभमिलसके।कहाहैकिग्रामीणोंकेअनुसारयदिकोसीनदीसेपेयजलपंपिगयोजनाकानिर्माणकियाजाएगातोगरीबतीनसौसेज्यादापरिवारोंकोइसकालाभमिलेगा।