कटान जारी, संक्रामक रोगों का भी खतरा

सीतापुर:बाढ़प्रभावितक्षेत्रमेंकटानपीड़ितोंकोअभीराहतनहींमिलसकीहै।सोमवारकोभीघाघरा,शारदानदियोंकाजलस्तरकमरहालेकिनखेतोंकाकटानजारीहै।बाढ़कापानीगांवोंवसंपर्कमार्गोंपरअभीभीभराहै।जिससेमुश्किलेंबढ़तीजारहीहैं।अबपीड़ितोंकोसंक्रामकरोगोंकाभीखतरासतानेलगाहै।शारदावघाघरानदीकाजलस्तरकईदिनोंसेथोड़ा-थोड़ाघटरहाहै,लेकिननदीकृषिभूमिकालगातारकटानकररहीहै।मक्का,गन्ना,धानकीफसलकटरहीहै।बाढ़कापानीइनखेतोंमेंभराभीहै।जिससेधान,मक्कातोचौपटहोनेकीकगारपरहै।गन्नेकोभीनुकसानकीआशंकाबढ़गयीहै।विकासखंडबेहटामेंशारदानदीकेतटवर्तीगांवरतौलीडीह,अचरजनपुरवा,बिचला,बरेती,सेमरिया,हरखीबेहड़,टिकौना,पट्टीदहेली,फूलपुरगोनियाआदिगांवोंकेआसपासपानीभराहै।खेतोंमेंभीपानीभराहोनेमवेशियोंकेलिएभीचारेकासंकटपैदाहोगयाहै।इसकेसाथहीसंक्रामकरोगफैलनेकीआशंकाबढ़रहीहैरतौलीडीह,फूलपुरगोनिया,हरखीबेहड़केकिसानोंकेखेतनदीकाटरहीहै।इनमेंधान,गन्ना,मक्का,उरद,अरहर,तिल्लीआदिकीफसलनदीमेंसमारहीहै।रतौलीडीह-समौदीडीसंपर्कमार्गपरपानीभराहै।रमाकांत,शत्रोहन,बैजनाथ,शहजाद,आशुतोष,शिवकुमार,विजेंद्र,जितेंद्र,फारुख,राजेश,सिपाही,हनीफ,मुबारक,जब्बारकेखेतकटानकीजदमेंहैं।टिकौना,पट्टीदहेली,कहारनपुरवाकेआसपासपानीभराहै।रतौलीडीहकेकल्लू,ओमकार,पंकज,माधवलाल,प्रकाश,जितेंद्र,राजेंद्र,संतोषनेबतायातहसीलप्रशासनसेअभीतककिसीतरहकीसहायतानहींमिलीहै।लेखपालइरशादअलीनेबतायाकिप्रभावितक्षेत्रमें355पीड़ितोंकोराहतवितरितकीजाचुकीहै।शेषकोकानूनगोसेसूचीमिलनेकेबादमदददीजाएगी।

सामान्यहोनेलगीस्थिति:तंबौरक्षेत्रमेंबाढ़कापानीधीरे-धीरेउतररहाहै।पानीबढ़नेसेजिनगांवोंमेंपानीभरगयाथावहांसेअबपानीनिकलगयाहै।गांवोंकीस्थितिअबसामान्यहोनेलगीहै।वहींतंबौर-छतांगुरमार्गवतंबौरबिसवांखुर्दमार्गपरकहीं-कहींपानीअभीबहरहाहै।लेकिनपहलेकीअपेक्षाकमपड़गयाहै।पहलेयहमार्गपूरीतरहडूबगएथे।वहींपानीघटनेकेसाथहीसंक्रामकरोगोंनेपांवपसारनाशुरूकरदियाहै।लेकिनस्वास्थ्यविभागकीटीमअभीतकगांवोंमेंनहींपहुंचीहै।राजस्वकर्मीभीअभीतकनुकसानकाजायजालेनेगांवोंमेंनहींआएहैं।सबसेअधिककटानपीड़ितोंको¨चतासंक्रामकरोगोंकीहै।बाढ़केबादरोगपनपनेकीचुनौतीपरेशानकिएहैं।