लाइनलास में 13.5 मिलियन यूनिट बिजली का हो रहा नुकसान

लाइनलासमें13.5मिलियनयूनिटबिजलीकाहोरहानुकसान

जागरणसंवाददाता,कानपुरदेहात:सरकारकीओरसेबिजलीव्यवस्थाकोदुरुस्तकरनेकेदावेकिएजारहेहैं।पखवारापूर्वबेपटरीहुईबिजलीव्यवस्थाकोअबदुरुस्तकियागयाहै,लेकिनबिजलीचोरलाइनलासकेसाथहीउपकेंद्रपरलगीमशीनोंकोभीओवरलोडकररहेहैं।विभागकोप्रतिमाह13.5मिलियनयूनिटबिजलीकानुकसानहोरहाहै।इससेविभागकोप्रतिमाहआठकरोड़रुपयेकीराजस्वक्षतिहोरहीहै।

बिजलीव्यवस्थाकोदुरुस्तरखनेकेलिएखपतकेअनुसारहीसंसाधनकीउपलब्धतारहतीहै।उपकेंद्रसेउपभोक्ताओंकीसंख्याकेअनुसारहीबिजलीकावितरणहोताहैऔरवितरणअनुसारविभागकोराजस्वकीप्राप्तिहोतीहै,लेकिनबिजलीचोरकटियाडालकरविभागकेराजस्वकोचूनालगानेसेनहींचूकरहेहैं।इससेलाइनलासतोबढ़हीरहाहैजबकिउपकेंद्रपरलगेउपकरणपरओवरलोडरहताहै।इससेट्रांसफार्मरजलने,इंसुलेटरखराबहोनेकेसाथअन्यसमस्याहोनेलगतीहै,जिससेआपूर्तिप्रभावितहोतीहै।आंकड़ोंपरगौरकरेंतोप्रतिमाह13.5मिलियनयूनिटबिजलीलाइनलासमेंचलीजातीहैजबकिविभागकीओरसेप्रतिमाह90मिलियनयूनिटकावितरणहोताहै।ऐसेमेंलाइनलासकेकारणवास्तविकउपभोक्ताओंतक76.5मिलियनयूनिटबिजलीकाहीउपभोगहोपाताहै।अप्रैलमेंविभागको48करोड़काबिलअदायगीकालक्ष्यदियागयाथा,लेकिनलाइनलासकेकारणही40करोड़कीअदायगीहोसकी।पखवारापूर्वलोगोंकोबिजलीकिल्लतकासामनाकरनापड़़ाथा,जिसेअबनियंत्रणमेंकियाजासकाहै।बिजलीचोरीकेकारणहीलोगोंकोअघोषितकटौतीकासामनाकरनापड़ताहै।जिलेमें1.95लाखबिजलीउपभोक्ताहैंइन्हेंप्रतिदिनतीनमिलियनयूनिटबिजलीकावितरणकियाजारहाहै,लेकिनकटियाबाजवास्तविकउपभोक्ताओंकेअधिकारकाशोषणतोकरहीरहेहैं।वहींबिजलीविभागकोभीचूनालगारहेहैं।इसकारणविभागकोप्रतिमाहआठकरोड़राजस्वकीक्षतिहोरहीहै।इसकेसाथहीबिजलीचोरोंकेकारणफाल्टकीसमस्याभीबढ़रहीहै।विभागकीओरसेलाइनलासकोकमकरनेकेनिर्देशदिएगएहैं।इसकेसाथहीउपभोक्ताओंकोनिर्बाधबिजलीमिलसके,इसकेलिएट्रांसफार्मरकीमरम्मतमें20लाखरुपयेमेंटिनेंसमेंखर्चकियाजाएगा।

बिजलीचोरीरोकनेकेलिएविभागकीओरसेप्रयासजारीहैं।मौजूदासमयमें13.5मिलियनयूनिटबिजलीलाइनलासमेंजारहीहै,जिसेजल्दहीनियंत्रणमेंकियाजाएगा।इसकेसाथहीट्रांसफार्मरकीक्षमताबढ़ानेकेलिए20लाखरुपयेखर्चकिएजाएंगे।-एकेवर्मा,अधीक्षणअभियंता