लड़ने को तैयार

जबलोकसभामेंकांग्रेससंसदीयदलकेनेताकेरूपमेंअधीरचौधरीकेनामकीघोषणाकीगई,तोइससेबहुतसेलोगहैरानथे,लेकिनवेलोगतोकतईनहींजोउन्हेंपहलेसेजानतेहैं.पश्चिमबंगालसेपिछलेदोदशकसेकांग्रेसकेसांसदचुनेजारहेचौधरीअच्छे-बुरेहरदौरमेंपार्टीकेसाथखड़ेरहेहैं.पहलेमाकपाऔरफिरममताबनर्जीकीतृणमूलकांग्रेस(टीएमसी)कीलहरमेंउन्होंनेअपनेगढ़मुर्शिदाबादकोहमेशाबचाएरखाहै.

1970केदशकमेंअधीरकुछसमयतकनक्सलीआंदोलनकेसाथरहेऔरअपनीपरेशानियांयहांतकबढ़ालींकिउन्हेंसातसालकीजेलकीसजाभीहुई.हिंसकविरासतउससमयसेहीउनकेसाथबनीहुईहैऔरउसकेबादभीउन्होंनेजोकुछभीहासिलकियाहै,वहउसीविरासतकेबूतेकियाहै.1996मेंजबउन्होंनेविधायककेरूपमेंपहलीचुनावीजीतहासिलकीथी,तबवेएकदर्जनसेअधिकहत्याओंकेआरोपीहोनेकेसाथभगोड़ेभीथेऔरउनकीगिरफ्तारीकावारंटजारीकियागयाथा.इतनेआपराधिकमामलोंकेबावजूदवे26,000सेअधिकवोटोंसेचुनावजीतेथे.

2000कीबाढ़केबादकिएराहतकार्योंसेअधीरनेखुदकोअपरिहार्यरूपमेंस्थापितकरलिया.रमजानमेंनमाजियोंकेलिएमुफ्तभोजनहोयागरीबोंकाइलाज,बेटीकीशादीकेलिएआर्थिकसहायतादेनाहोयाअंतिमसंस्कारमेंशामिलहोना,अधीरसबकेलिएतत्पररहतेथे.अनुभवीकांग्रेसीअमिताभचक्रवर्तीकहतेहैं,''अगरकहींछेड़छाड़कीकोईघटनाहुईहै,तोअधीरकोएकफोनकरदेनापर्याप्तथा.वेअपराधियोंकीपूरीखबरलेतेथे.बेहरामपुरकीमहिलाएंतोरातमेंभीबाहरघूमतेहुएखुदकोसुरक्षितमहसूसकरतीथीं.मुर्शिदाबादमेंउत्पीडऩयाबलात्कारकीकोईघटनानहींहुईथी.''

अधीरखापकीतरहपंचायतेंलगाकरविवादोंकानिपटाराकरदेतेथेऔरलोगोंनेविवादोंकेनिपटारेकेलिएपुलिसयाअदालतोंकेपासजानेकीतुलनामेंउनपरअधिकभरोसाकिया.बंगालविधानसभामेंकांग्रेसकेमुख्यसचेतकमनोजचक्रवर्तीकहतेहैं,''गरीबोंकेबीचआमभावनायहहैकिअधीरगलतकामनहींकरसकते.''गलतकरनेवालोंकोऐसीसजाएंमिलींकिआगेकोईहिम्मतनहींकरपायाऔरइसतरहउनकेप्रभावक्षेत्रमेंअपराधखत्महोगया.

इसबीच,उनकीराजनैतिकयात्राजारीरही.उन्होंने1999मेंमुर्शिदाबादकेबेहरामपुरसेभारीअंतरसेलोकसभाचुनावजीता.वास्तवमें,कांग्रेसकेसाथममताकेमतभेदसोमेनमित्राजैसेबंगालकेदिग्गजकांग्रेसियोंकेअधीरजैसेयुवातुर्कोंकोबढ़ावादेनेकेसाथहीबढ़े.अधीरजैसे'अपराधियों'कोटिकटदेनेकेपार्टीकेफैसलेकाविरोधकरतेहुएममतानेतोएकबारआत्महत्याकीधमकीभीदीथी.पार्टीमेंअधीरकाउदयधीमामगरलगातारहोतारहा.वे2012मेंयूपीए-2सरकारमेंरेलराज्यमंत्रीबनेऔर2014मेंप्रदेशकांग्रेसकेप्रमुखबनाएगए.सितंबर2018मेंउनकाग्राफतबथोड़ागिरा,जबकांग्रेस,धर्मनिरपेक्षताकतोंकेसाथमिलकरमोदीविरोधीमंचकीतलाशमेंथी.अधीरकोपदछोडऩेकेलिएकहागयाक्योंकिवेममताकेखिलाफबहुतआक्रामकरहतेथे.

औरऐसाथाभी.ममतापरहमलेकरनेकेलिए,वेअक्सरभगवापार्टीकेसाथखड़ेनजरआतेथेऔरभाजपाकेलगाएआरोपोंकोऔरमजबूतीसेरखतेथे.एकबारगीऐसीअटकलेंलगरहीथींकिअधीरअपनीसीटबचानेकेलिएपालाबदलसकतेहैं.लेकिनउन्होंनेकांग्रेसउम्मीदवारकेरूपमेंहीचुनावलड़ाऔर80,000वोटोंसेअधिकअंतर(भाजपाऔरमाकपानेकमजोरउम्मीदवारोंकोमैदानमेंउताराजिससेमददमिली)सेजीते.

जीतकेअलावा,अन्यकईकारणभीहैंजिससेकांग्रेसनेउन्हेंलोकसभामेंनेतापदकेलिएचुनाहै.निष्ठाऔरउनकेसंगठनात्मककौशलकेअलावाएकऔरबातजोउनकेपक्षमेंगईवहथीसंसदमेंमुख्यविपक्षीआवाजबननेकोलेकरकांग्रेसकीचिंता.औरवेपहलेहीखुदकोसाबितकरचुकेहैं.नएसत्रमेंपहलेहीभाषणमें,उन्होंनेकांग्रेसकेनारे,'भारतइंदिराहैऔरइंदिराभारतहैंÓकोफिरसेताजाकरतेहुएअपनीटिप्पणीमेंभाजपाकोनिशानेपरलियाऔर'कहांमांगंगाऔरकहांगंदीनाली'तकबोलगएजिसकोलेकरविवादहोगया.यहतोअभीशुरुआतहै.सदनमेंशोर-शराबेकेऐसेबहुतसेदौरदेखनेमेंआएंगे.