लोगों द्वारा सुरक्षा नियमों का पालन नहीं करने के चलते भी दिल्ली में कोविड-19 के मामले बढ़े

(कुणालदत्त)नयीदिल्ली,31अगस्त(भाषा)चिकित्साविशेषज्ञोंकाकहनाहैकिदिल्लीमेंबीतेकुछदिनोंमेंकोरोनावायरससंक्रमणकेमामलेबढ़नेकीएकवजहकाफीलोगोंद्वारामास्कनहींपहनाजानाऔरशारीरिकदूरीकेनियमोंकाउल्लंघनकरनाभीहै।उन्होंनेइनहालातकोअबभी''स्वास्थ्यआपातकाल''मानाजाए।नामचीनअस्पतालोंकेडॉक्टरोंसेलेकरदेशभरकीजांचप्रयोगशालाओंकेअधिकारियोंतकसभीकामाननाहैकिजनमानसऔरविशेषकरयुवाओंकीसोचमेंअचानकबदलावआयाहैऔरउनकोलगनेलगाहैकिलॉकडाउनमेंढीलदियेजानेकेबादसे''सबकुछसामान्य''होगयाहै।राजीवगांधीसुपरस्पेशियलिटीअस्पतालकेनिदेशकबीएलशेरवालने'पीटीआई-भाषा'सेकहा,''हमदेखरहेहैंकिअधिकतरयुवाओंनेघूमना-फिरना,कैफेयारेस्त्रांमेंबैठकरलीगईंतस्वीरेंसोशलमीडियापरडालनाशुरूकरदियाहै,जोएकखतरनाकरुझानहै।''शेरवालनेकहा,''इससेलोगोंमेंगलतसंदेशजाताहैकिहालातअबसामान्यहोगएहैं।अर्थव्यवस्थातोधीरे-धीरेखुलहीरहीहै।''उन्होंनेकहा,''बड़ीसंख्यामेंघरसेबाहरजारहेलोगयातोमास्कनहींलगारहेयाफिरउनकामास्कठुड्डीपरलटकारहताहै।इससेअचानकसंक्रमणफैलसकताहैऔरबीतेकुछदिनोंमेंसंक्रमणकेमामलोंमेंतेजीसेवृद्धिकीएकवजहयहभीहै।लोगोंकोअपनीसुरक्षासेखिलवाड़नहींकरनाचाहिये।दिल्लीमेंरविवारकोअगस्तमेंसबसेअधिक2,024नएमामलेसामनेआनेकेबादसंक्रमितोंकीकुलसंख्या1.73लाखहोगईजबकि22रोगियोंकीमौतकेबादमृतकोंकीतादाद4,426तकपहुंचगईहै।इससेपहलेशनिवारकोसंक्रमणके1,954नएमामलेसामनेआएथे।उससेपिछलेदोदिनमें1800केआसपासमामलेसामनेआए।अपोलोअस्पतालमेंवरिष्ठसलाहकारसुरनजीतचटर्जीनेकहाकिअर्थव्यवस्थाकेखुलनेसेलोगएकदूसरेकेसंपर्कमेंआए,जिससेसंक्रमणकेमामलोंमेंतेजीसेवृद्धिहुई।उन्होंनेकहा,''दिल्लीमेंजुलाईमेंसंक्रमणकेमामलोंमेंकमीआरहीथी।इसबीचजूनसेअर्थव्यवस्थाधीरे-धीरेखोलीजारहीहैक्योंकिअर्थव्यवस्थाकोअनिश्चितकालकेलियेबंदनहींरखाजासकता।इसकायहमतलबनहींहैकिलोगअबइसेस्वास्थ्यआपातकालमानकरनचले।लोगोंकेएकवर्गमेंयहसोचबनगईहैकिअबसबकुछठीकहै।''‘डॉक्टरलालपैथलैब’केकार्यकारीअध्यक्षअरविंदलालनेआगाहकियाकिलोगोंकोबिनाजरूरतबाहरनिकलनेसेबचनाचाहियेक्योंकिवेऐसेलोगोंकेसंपर्कमेंआकरसंक्रमितहोसकतेहैं,जिनमेंलक्षणदिखाईनहींदियेहैं।उन्होंनेकहा,''हमअबभीस्वास्थ्यआपाकालमेंजीरहेहैंऔरहमेंयहबातनहींभूलनीचाहिये।''