माइनर में पानी नहीं, धान की नर्सरी सूखने के कगार पर

जासं,हलिया(मीरजापुर):विकासखंडकेभटपुरवा,बोधीपुर,बबुराकलां,मुड़ेलगांवकेमुड़ेलमाइनरनहरमेंपानीनआनेसेधानकीनर्सरीसूखनेकेकगारपरपहुंचगईहैं।दिनरातकीमेहनतकोबर्बादहोतादेखकिसानचितितहै।कुछकिसानोंकीनर्सरीहोगईहै,लेकिनपानीकेअभावमेंरोपाईनहींहोपारहीहै।मुड़ेलमाइनरकीसाफ-सफाईनहोनेसेनहरखुलनेकेबावजूदगड़बड़ागोकुलगांवकेआगेपानीनहींजापारहाहै।टेलतकपानीनपहुंचनेकेकारणकिसानोंमेंआक्रोशहै।किसानोंनेआरोपलगायाकिविभागीयअधिकारियोंवकर्मचारियोंकीलापरवाहीकेचलतेनहरकीसाफ-सफाईनहींहोनेसेपानीनहीआपारहाहै।

क्षेत्रकेशिवचरणत्रिपाठी,नर्वदाप्रसादमिश्र,सूर्यप्रकाशमिश्र,जयकृष्णसिंह,राजेंद्रप्रसादमिश्र,पुल्लीवर्मा,महेंद्रदुबे,अमरनाथचौरसिया,कलंदरवर्मा,जयकृष्णसिंह,अभिमन्युआदिकिसानोंनेबतायाकिजूनमाहमेंबारिशहोनेपरधानकीनर्सरीडालदियागयाथा।जुलाईमाहमेंनहरखुलनेकेबावजूदनहरकीसफाईनहींहोनेसेआजतकमुड़ेलमाइनरसूखीपड़ीहुईहै।नहरमेंबड़े-बड़ेझाड़झंखाड़उगआएहैंऔरजगह-जगहपटगईहै।इससेपानीकाप्रवाहनहरमेंनहींहोपारहाहै।किसानोंद्वारामहंगेदामोंपरखादबीजखरीदकरडालीगईधानकीनर्सरीसूखरहीहै,लेकिनविभागकोचितानहींहै।किसानोंनेजिलाधिकारीकाध्यानआकृष्टकरातेहुएमुड़ेलमाइनरनहरकीसफाईकरवाकरपानीछोड़नेकीमांगकीहै।

शासनद्वारावर्षमेंएकबारनहरोंकीसफाईकेलिएबजटआवंटितकियाजाताहै।मुड़ेलमाइनरकीसाफसफाईदिसंबरमाहमेंकीगईथी।हालांकिकिसानोंकीसिचाईसुविधाओंकोलेकरजल्दहीनिरीक्षणकरमुड़ेलमाइनरनहरकीसाफ-सफाईकरवाईजाएगी।

कमलेशसिंह,सहायकअभियंतासिरसीबांधप्रखंडनहर।