मानसून की बारिश के साथ कृषि कार्य में जुटे किसान

संवादसूत्र,खरसावां:प्रखंडमेंपिछलेदोदिनोंसेहोरहीमानसूनकीबारिशकेसाथकृषिकार्यमेंतेजीआगईहै।किसानअपने-अपनेखेतोंमेंट्रैक्टरवहल-बैलकेमाध्यमसेरोपाईकेलिएखेतोंकोतैयारकरनेमेंजुटगएहैं।लगातारहोरहीबारिशसेकिसानोंमेंखुशीहै।बारिशसेखेतपानीसेलबालबहैं।बारिशसेनदियोंकेजलस्तरमेंभीवृद्धिहुईहै।

इधर,पिछलेदोदिनोंसेहोरहीबारिशसेखरसावांमेंकईजगहोंपरजलजमावकीस्थितिउत्पन्नहोगईहै।कईजगहोंपरनालोंकादूषितपानीसड़कपरबहरहाहै।इसकेअलावाखरसावांस्थितचांदनीचौककेसमीपसरकारीमार्केटकापलेक्सकेसामनेजलजमावकीस्थितिसेलोगपरेशानहैं।कईदुकानोंमेंबारिशकापानीघुसचुकाहै।मानसूनकीपहलीबारिशनेखरसावांमेंड्रेनेजसिस्टमकीपोलखोलदीहै।ग्रामीणक्षेत्रोंमेंसड़कपरबनेगड्ढेभीपानीसेभरचुकेहैं,इससेराहगीरोंकोआवागमनकरनेमेंकाफीपरेशानीहोरहीहै।बारिशसेसड़केंवीरान,जनजीवनअस्त-व्यस्त:गुरुवारकीसुबहसेहीसरायकेलासमेतआसपासकेक्षेत्रोंमेंहोरहीलागातारबारिशसेजनजीवनअस्त-व्यस्तहो।वाहनोंकाआवागमनकमहोनेसेसड़केंभीवीरानहैं।बाजारोंमेंभीसन्नाटापसरारहा।लगातारहोरहीबारिशसेक्षेत्रकेसभीजलाशयपानीसेलबालबहोचुकेहैं।सरायकेलापंचायतकेकईमोहल्लोंमेंजलनिकासीकीसमुचितव्यवस्थानहींहोनेसेलोगोंकेघरोंमेंबारिशकापानीघुसगया।वहींदूसरीओर,ग्रामीणक्षेत्रोंकीअधिकांशसड़केंकीचड़मेंतब्दीलहोगईहैं।इनसड़कोंपरपैदलआवागमनकरनेमेंभीराहगीरोंकोपरेशानीहोरहीहै।बारिशकेकारणक्षेत्रमेंबिजलीकीआंखमिचौलीसेभीलोगपरेशानहैं।अनियमितविद्युतआपूर्तिसेपेयजलापूर्तिकीव्यवस्थाभीचरमरागईहै।कांड्रामुख्यमार्गस्थितहाटपरिसरमेंदूषितपानीसेजलजमावकीस्थितिउत्पन्नहोगईहै।ग्रामीणक्षेत्रोंमेंकईमकानबारिशसेक्षतिग्रस्तहोगएहैं।लगातारहोरहीबारिशकाअसरदिहाड़ीमजदूरोंपरभीपड़ाहै।लगभगसभीप्रकारकेनिर्माणसंबंधीकार्यबंदहैं।हालांकिबारिशसेकिसानोंकेचेहरेखिलउठेहैं।किसानखेतीमेंजुटगएहैं।पिछलेएकपखवाड़ेसेक्षेत्रमेंबारिशनहींहुईथी।इसकारणकिसानचिंतितथे।