महाराष्ट्र की संस्था से 300 करोड़ के संदिग्ध लेन-देन की आशंका, PMO कर रहा निगरानी

आयकरविभागनेमहाराष्ट्रकीकुछसहकारितासंस्थासेलेन-देनकेमामलेमेंइंदौरकेकरीबएकहजारलोगोंकोनोटिसजारीकिएहैं।आशंकाहैकिसंस्थाओंसेकरीब300करोड़रुपएकालेन-देनकियागयाहै।यहपूरीकार्रवाईPMO(प्रधानमंत्रीकार्यालय)कीनिगरानीमेंहोरहीहै।आयकरविभागकेआदेशमेंसाफतौरपरइसबातकाउल्लेखभीकियागयाहै।

सूत्रोंकेअनुसार,ऑर्डरधारा148केतहतभेजेगएहैं।जिनसंस्थाओंसेलेन-देनकेसिलसिलेमेंयेनोटिसभेजेगएहैं,उनकेकामकाजकीआयकरविभागलंबेसमयसेपड़तालकररहाहै।इनमेंसेएकसंस्थाकाकार्यालयइंदौरमेंराजबाड़ापरभीहै।आरोपहैकिइनसंस्थाओंसेबिनादस्तावेजोंकीजांचकिएनकदलेन-देनकियाजारहाहै।

आयकरविभागद्वाराभेजेजारहेआदेशोंमेंस्पष्टलिखाहैकिजिनलोगोंअथवाकंपनियोंकानामसूचीमेंशामिलहै,उन्हेंसीधेउक्तसहकारितासंस्थाकेखातेसेराशिप्राप्तहुईहै।उधर,करदाताओंकाआरोपहैकिउनकेविरुद्धएकतरफाकार्रवाईकीजारहीहै।उन्हेंसुनवाईकापर्याप्तमौकाभीनहींदियाजारहाहै।

गरीबोंकेखातेमेंरुपएजमाकरकारोबारियोंकोभेजरहेरकम

इनसंस्थाओंऔरउनकीब्रांचमेंऐसेलोगोंकेनामपरराशिजमाहोरहीहै,जोकमआयवालेहैं।खातेमेंजमाराशिकईव्यक्तियोंऔरसंस्थाओंकोचेक,डीडीआदिकेमाध्यमसेआगेभेजीजारहीहै।इनमेंविदेशीलाभार्थी,सोना-चांदीव्यापारी,एक्सपोर्टरआदिशामिलहैं।

इन्हींलाभार्थियोंकीसूचीमेंइंदौरकेकुछलोगभीशामिलहैं,जिन्हेंसहकारितासंस्थाकेखातेकेचेकयाडीडीकेमाध्यमसेराशिकाभुगतानकियागयाहै।विशेषज्ञोंकादावाहैकिइंदौरमेंपिछलेकुछसमयमेंहीऐसेकरीब1000नोटिसजारीहुएहैं।इनमेंकुछमामलोंमेंआदेशभीपारितहोचुकेहैं।

करदाताबोले-व्यापारिकलेन-देनकीराशि,विभागकोदेचुकेहिसाब

विशेषज्ञोंकामाननाहैकिइनमेंसेकुछलाभार्थियोंकोयेचेकउनकेव्यापारिकलेनदेनकेतहतमिलेहैं,जिसकालेखा-जोखाआयकरविभागकोदियाजाचुकाहै।ऐसेमेंउनकेखिलाफबिनासुनवाईकेएकतरफाकार्रवाईकीजारहीहै।इंदौरकेऐसेकरदातामामलेकोहाईकोर्टमेंचुनौतीदेनेकीभीतैयारीकररहेहैं।आशंकाहैकिशहरकेकरदाताओंकेपासऐसीसहकारितासंस्थाकीओरसे300करोड़सेअधिककीराशिआईहै।