मजबूत हुई किसानी, अन्नदाताओं में भरा उत्साह

अंबेडकरनगर:किसानोंकेलिएवर्ष2017लाभोंसेभरारहा।जहांउनकोफसलीऋणपरएकलाखरूपयेतकऋणमाफहुएतोवहींकिसानोंकीआयकोदोगुनीकरनेकेलिएकईयोजनाओंकासंचालनभीप्रारंभहुआ।इसमेंकिसानोंकोतकनीकीजानकारीदेनेकेसाथहीअनुदानपरफसलबीजएवंकृषियंत्रोंकाभरपूरलाभमिला।इतनाहीनहींइसवर्षगेहूंखरीदकेलिएकुल84क्रयकेंद्रोंकेमाध्यमसे43913मीट्रिकटनकीखरीदहुईतोवहींधानखरीदकेलिएभीइतनेक्रयकेंद्रोंकीस्थापनाकीगई।इसमेंअभीतक1276मीट्रिकटनकीखरीदहोचुकीहै।इसकेलिएअभीदोमाहकासमयबचाहुआहै।किसानोंकेनकदीफसलोंमेंविभागनेइसवर्षलापरवाहीबरतीहै।इसमेंगन्नाकोफसलबीमासेबाहरकरनेकेसाथमिलसेसमयसेपर्चीभीनहींमिलपारहीहैतोवहींउद्यानविभागसेभीलाभनहींमिलसका।

किसानीकोमजबूतकरनेकेलिएबीतरहावर्षबेहतररहा।इसमेंसरकारकीसबसेबड़ीसौगातऋणमोचनकारहा।इसकेअलावातकनीकीजानकारीकेलिएकृषकपाठशालाकाभीआयोजनकियागया।इतनाहीनहींसोलरपंपसेफसलबीजोंपरभीजमकरअनुदानकिसानोंकोमिला।हालांकिमृदापरीक्षणसहितकईयोजनाओंकालाभकिसानोंकोसमयपरनहींमिलसका।

-ऋणमोचनयोजनामें37212किसानोंकाहुआकर्जमाफ

अंबेडकरनगर:मार्च2016तकएकलाखरूपयेतककाकर्जमाफकरनेकेलिएसरकारघोषणाकरनेकेबादकृषिविभागनेजिलेकेकुल67हजार263किसानोंकाचयनकियाइसमेंसत्यापनकेबादकुल37हजार212किसानपात्रपाएगए।पात्रपाएगएकिसानोंका189.90करोड़कीधनराशिमाफहुईइसकोचारचरणोंमेंकिसानोंकोप्रमाणपत्रदेकरसमाप्तकियागया।वहींसत्यापनकेदौरान18हजार556किसानऐसेनिकलेजोअपनाबकायाधनराशिजमाकरचुकेथे।इसकेअलावा11हजार482किसानअपात्रपाएगए।13किसानोंकोजिलासमितिनेकिसीकारणवशअपात्रबनायाथा।

सहकारिताके11526किसानोंकोनएवर्षमेंकर्जहोगामाफ

अंबेडकरनगर:सहकारीसमितिद्वाराउर्वरकपरकर्जलिएथेउन्हेंआनेवालेसालमेंलाभमिलेगा।इसकीतैयारीविभागीनेपूर्णकरलीहै।इसमेंअभीतक11526किसानोंकाचयनकियागयाहै।इसबावतकृषिअधिकारीडॉ.धर्मराज¨सहनेबतायाकिइसकासत्यापनतहसीलस्तरपरचलरहाहै।

अनुदानबनेकिसानोंकीलाठी

अंबेडकरनगर:विभागद्वारासोलरपंप,रोटावेटर,हर्टीवेटर,फर्टीसीडमशीन,गेहूंतथाधानबीजपरअनुदानमिलाइससेकिसानोंकोखेतीकरनेमेंपूरासहयोगमिला।इसमेंहरितक्रांतियोजनाकेतहत3300किसानोंकोगेहूंप्रदर्शनीकेलिएअनुदानदियागया।विभागमेंपंतहकृतदोलाख89हजारकिसानोंमेंसेइसवर्षविभिन्नयोजनाओंमें44हजारकिसानोंकोअनुदानकालाभप्रदानकियागया।वहींऑनलाइनपंजीकृतकिसानोंकोदोबारासहमतिप्रदानकरनेकेलिएइसवर्षदोबाराऑनलाइनकरानापड़ा।

-मृदापरीक्षणअभियानमेंलापरवाही

अंबेडकरनगर:इसवर्षनेशनलमिशनफॅारसस्टेनेबलएग्रीकल्चरयोजनाकेतहत27अक्टूबरसे23नवंबरतकचारचरणोंमेंमृदापरीक्षणअभियानचलायागया।लेकिनवर्षकेसमापनतककिसानोंकोमृदापरीक्षणप्रमाणपत्रबांटानहींगया।इससेकिसानोंकोअपनेखेतोंकीसेहतकेबारेमेंनहींजानसकेऔरगेहूंवअन्यफसलोंकीबोवाईपूर्वकीभांतिकरदी।

उद्यान,भूमिसंरक्षणतथाजलसंसाधनविभागकिसानोंसेअछूते

अंबडकरनगर:किसानोंकोनकदीफसलकरनेकेलिएउद्यानविभागसेफल,फूल,मसालाकीखेतीकरनेकाअनुदानदियाजाताहैलेकिनविभागनेकागजीकोरमपूराकरकिसानोंकोलाभदेनेमेंफिसड्डीरहा।इसीतरहभूमिसंरक्षणतथाजलसंसाधनविभागकेबारेमेंतोअधिकांशकिसानोंकोजानकारीहीनहींहै।कार्यालयोंसेअधिकांशसमयप्रभारीअधिकारीगायबहीमिलतेहैं।

गेहूंमेंबल्ले-बल्लेलेकिनधानबेचनेमेंआरहापसीना

अंबेडकरनगर:इसवर्षगेहूंक्रयकरनेकेलिएकुल84केंद्रबनाएगएथे।इसकेमाध्यमसे43913.82मीट्रिकटनकीखरीदहुईजोलक्ष्यका46प्रतिशतरहा।लेकिनवर्तमानसमयमेंधानबेचनेमेंकिसानोंकोपसीनाआरहाहै।इसमेंकटौतीआदिसमस्याआनेसेकिसानोंकोहानिहोरहीहै,इसकेचलतेदोमाहमें44हजार687मीट्रिकटनखरीदहुईजोलक्ष्यसेसापेक्षमहज32प्रतिशतहै।हालांकिअभीदोमाहखरीदकेलिएशेषहै।